20 नवंबर को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक, राहुल को अध्यक्ष बनाने पर फ़ैसला संभव

राहुल की 'ताजपोशी' पर लग सकती है मुहर, सीडब्ल्यूसी ने 20 नवंबर को बुलाई बैठक नई दिल्ली सोमवार 20 नवंबर को कांग्रेस पार्टी ने कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक बुलाई है। पूरे देश में संगठनात्मक चुनाव की प्रक्रिया पूरी होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष की अध्यक्षता में यह बैठक बुलाई गई है। सीडब्ल्यूसी कांग्रेस पार्टी की सर्वोच्च ईकाई है और इसमें पार्टी के सामने मौजूद चुनौतियों को देखते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता की भावी दशा-दिशा के संबंध में निर्णय लिया जाता है। विश्वस्त सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार 20 नवंबर को होने वाली इस बैठक में अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों के अलावा पार्टी को राहुल गांधी के रूप में नया अध्यक्ष देने पर भी विचार किया जाएगा। हालांकि सीडब्ल्यूसी की बैठक में राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने के संबंध में पार्टी का कोई वरिष्ठ पदाधिकारी कुछ नहीं कह रहा है। सबके पास इस संबंध में केवल एक ही जवाब है कि पार्टी के संविधान के अनुसार कांग्रेस के पास नया अध्यक्ष चुनने के लिए दिसंबर 2017 तक का समय है और राहुल गांधी बहुत जल्द पार्टी के अध्यक्ष हो सकते हैं। लेकिन सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार 20 नवंबर को होने वाली सीडब्ल्यूसी की बैठक में इस बारे में चर्चा होगी और अहम निर्णय लेकर पार्टी कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव प्रक्रिया को आगे बढ़ा देगी।सीडब्ल्यूसी की यह बैठक हिमाचल विधानसभा चुनाव के लिए मतदान पूर्ण होने तथा गुजरात विधानसभा चुनाव के नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने के बीच हो रहा है। अभी केन्द्र सरकार ने संसद का शीतकालीन सत्र को लेकर भी कोई निर्णय नहीं लिया है। इस तरह राजनीति के लिहाज से पार्टी के सामने कई चुनौतियां मौजूद है। इसी के साथ-साथ पार्टी के नये अध्यक्ष का चुनाव भी काफी अहम मसला है। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता, नेता, केंन्द्रीय ईकाई के सदस्य सभी राहुल गांधी को पार्टी के अध्यक्ष पद पर देखना चाहते हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि इस समय को राहुल गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाए जाने के लिहाज से काफी अहम है।

कुछ ऐसे होगी सुशील मोदी के बेटे की शादी, ना डीजे होगा ना लजीज खाना

नई दिल्ली बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी के बड़े बेटे उत्कर्ष की 3 दिसंबर को पटना के शाखा मैदान, राजेंद्र नगर में होनी है। सुशील मोदी ने राज्य सरकार के दहेज बहिष्कार का समर्थन करते हुए बेटे की शादी में दहेज लेने से इनकार कर दिया है। इतना ही नहीं शादी में जो कार्ड भेजे जा रहे हैं उसमें भी केंद्र सरकार के डिजिटल इंडिया की झलक देखने को मिल रही है। दरअसल जो मेहमानों को जो निमंत्रण कार्ड भेजे जा रहे हैं वो ई-मेल और व्हाट्सएप के जरिए ही भेजे जा रहे हैं। सुशील मोदी के बड़े बेटे उत्कर्ष बेंगलुरु में एक मल्टी नेशनल कंपनी में काम करते हैं। उत्कर्ष की शादी कोलकाता की यामिनी से तय हुई है। यामिनी पेशे से एक चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं। लड़की वालों पर शादी का दवाब कम पड़े इसके लिए यह शादी रात में नहीं बल्कि दिन के उजाले में होगी। इसके अलावा इस शादी में न तो बारात आएगी और न ही बैंड-बाजा बजेगा और न ही खाने में लजीज पकावान मिलेंगे। लोग बड़े ही शांत से आएंगे साथ ही मेहमानों को गिफ्ट लाने के लिए भी मना किया गया है। शादी को लेकर सुशील ने बताया कि उत्कर्ष की शादी दिन में बिना दहेज के साधारण तरीके से होगी। मेरी शादी भी बहुत की साधारण तरीके से हुई थी और मेरे बेटे की भी वैसे ही होगी। सूत्रों के मुताबिक इस शादी में लगभग बीजेपी के सभी बड़े नेता शिरकत करेंगे।

More Articles...

  1. इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती : प्रणब मुखर्जी बोले, उन्हें इतिहास के पन्नों से मिटाना नामुमकिन
  2. रातभर हुई बारिश ने साफ की दिल्ली की हवा, 49 ट्रेनें अब भी लेट और 14 रीशेड्यूल
  3. ए के और 'पद्मावती' विवाद पर एससी की सलाह, फिल्मों पर नहीं चलना चाहिए अदालती डंडा
  4. पुलिस हेडक्वार्टर से कुछ दूर पर हुई महिला पत्रकार से छेड़छाड़, सीसीटीवी वायरल होने पर आरोपी गिरफ्तार
  5. दिल्ली में सुधरी हवा तो घटी 4 गुना पार्किंग फीस, ट्रकों की एंट्री भी शुरू
  6. ये है भारत का सबसे महंगा मार्केट, प्रियंका वाड्रा-विराट भी हैं मुरीद
  7. ‌द‌िल्ली सरकार ने वसूला 787 करोड़ का ग्रीन टैक्स ले‌क‌िन पर्यावरण पर खर्च किए सिर्फ 93 लाख
  8. एनजीटी से दिल्ली सरकार की गुजारिश, ऑड-इवन में महिलाओं को मिले छूट
  9. रोहिणी कोर्ट परिसर में फायरिंग, पेशी से वापस आ रहे कैदी की सरेआम हत्या
  10. एनजीटी की कड़ी शर्तों से घबराई केजरीवाल सरकार, सोमवार से लागू नहीं होगा ऑड-ईवन

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3