रोहिणी कोर्ट परिसर में फायरिंग, पेशी से वापस आ रहे कैदी की सरेआम हत्या

ताबड़तोड़ फायरिंग से गूंजा कोर्ट परिसर, दिनदहाड़े कैदी की गोली मारकर हत्या नई दिल्ली। रोहिणी कोर्ट परिसर में सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए जेल से पेशी के लिए लाए गए कैदी की गोली मार हत्या कर दी गई। वारदात के बाद आरोपी ने खुद आत्मसमर्पण कर दिया। ऐसे में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। मृतक की पहचान विनोद उर्फ बाले के रूप में हुई है। वह मंगोलपुरी ई ब्लॉक का निवासी था। जानकारी के मुताबिक, सोमवार की सुबह एक मामले में पेशी के लिए दिल्ली पुलिस की तीसरी वाहिनी के जवान कोर्ट में लाए थे। उसे कोर्ट में पेश करने के बाद वापस जेल परिसर के गेट पर बने बैरक में बंद करने के लिये लाया जा रहा था। पुलिस के जवान उसे कोर्ट भवन के बाहरी हिस्से में बने रैंप से नीचे लेकर आ रहे थे। वह बस नीचे पहुचने ही वाला था कि पीछे से आ रहे हमलवार ने उस पर गोली चला दी। गोली लगते ही जमीन पर गिर पड़ा। इसके बाद हमलावर ने भी खुद को पुलिस के हवाले कर दिया। घायल कैदी को पुलिस तुरंत रोहिणी के बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया , जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया है । वहीं, रोहणी जिले के डीसीपी ऋषिपाल के मुताबिक हमलवार की पहचान नागलोई के अब्दुल खान के रूप में हुई है। फिलहाल उसे रोहिणी कोर्ट की पुलिस चौकी में रखा गया है। अब तक जांच में पता चला है कि आपसी रंजिश में वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3