मौलाना सलमान नदवी को एआईएमपीएलबी से निकाला गया, अयोध्या विवाद को सुलझाने का दिया था फॉर्मूला

नई दिल्ली अयोध्या विवाद को कोर्ट से बाहर सुलझाने का फॉर्मूला देने वाले मौलाना सलमान नदवी को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से बाहर निकाल दिया गया है। नदवी ने अयोध्या विवाद को सुलझाने के लिए सुझाव दिया था कि मंदिर के लिए मस्जिद को शिफ्ट किया जा सकता है।उनके इस बयान से नाराज बोर्ड ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया। जानकारी के मुताबिक नदवी हैदराबाद में चल रही बोर्ड की मीटिंग में उन्हें बाहर करने का फैसला लिया गया। सलमान नदवी ने कोर्ट के बाहर इस विवाद को सुलझाने की पैरवी की थी। मुस्लिम समाज के प्रतिनिधि मंडल की तरफ से मौलाना नदवी श्री श्री रविशंकर से मिलने पहुंचे थे। वहां उन्होंने कहा था कि दोनों पक्ष साथ बैठकर फैसला करें।उन्होंने यह भी कहा था कि मस्जिद को वहां से शिफ्ट करके वहां मंदिर बनाया जाना चाहिए। सलमान को बाहर निकाले जाने के खबर पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कासिम इलियास ने कहा कि बोर्ड अपने पुराने स्टैंड पर कायम है। मस्जिद न ही हटाई जाएगी और न ही शिफ्ट की जाएगी। सलमान नदवी बोर्ड के स्टैंड से अलग जा रहे थे इसलिए उन्हें बोर्ड से निकाला गया है। इस बयान के अलावा उनके बोर्ड के साथ रिश्ते भी खटास भरे हो गए थे। हैदराबाद में होने वाली बैठक से पहले उन्होंने कहा था कि बोर्ड पर कुछ लोगों का कब्जा हो चला है। इन लोगों को उन्होंने आरएसएस का एजेंट करार दिया था।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3