3 साल केजरीवालः हमने इतना काम किया जितना 70 साल में भी नहीं हुआ, कहीं ये बड़ी बातें

नई दिल्ली वेलेंटाइन डे के दिन आम आदमी पार्टी के लिए भी बहुत खास है क्योंकि इसी दिन तीन साल पहले 2015 में केजरीवाल सरकार ने शपथ लेकर दिल्ली की सत्ता संभाली थी। इस अवसर पर बुधवार को दिल्ली के एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में दिल्ली सरकार तीन साल का पूरा लेखाजोखा पेश कर रही है। मोहल्ला क्लीनिक- मोहल्ला क्लीनिक के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि दो कमरे की छोटी क्लीनिक होती है, जिसमें सभी सुविधाएं, दवाएं और इलाज मुफ्त मिलता है। इस वक्त दिल्ली में कुल 164 मोहल्ला क्लीनिक बने हैं। 786 लैंड आडेंटिफाई हो चुकी है और कंस्ट्रकक्शन का काम जल्द शुरू होगा और आने वाले कुछ महीने में 950 मोहल्ला क्लीनिक बन जाएंगे। यानी दिल्ली में हर 1.5 किमी पर एक मोहल्ला क्लीनिक होगा। पॉली क्लीनिक- पॉली क्लीनिक में स्पेशलिस्ट होते हैं और मशीनें होती हैं जहां आप जांच करा सकते हैं। दिल्ली में कुल 120 पॉली क्लीनिक हैं। सुपर स्पेशेलिटी अस्पताल- सुपर स्पेशेलिटी अस्पताल के बारे में बताते हुए कहा कि यहां पहले 10000 बेड थे अब तीन हजार और बेड बढ़ाए हैं। हर तरह की स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई हैं जिससे सरकारी अस्पतालों में भीड़ बढ़ने लगी है। अस्पतालों में भीड़ कम करने के लिए टेंपरेरी मेजर के तौर पर 67 प्राइवेट लैब को चुना गया है जहां जाकर लोग फ्री में अपनी जांच करा सकते हैं। आपको एक पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है। अगर सरकारी अस्पतालों में लाइन लंबी है और ऑपरेशन की जरूरत है और एक महीने में नंबर नहीं मिलता तो 44 प्राइवेट अस्पताल में अपना ऑपरेशन करा लीजिए आपका मुफ्त में ऑपरेशन होगा। उन्होंने ये भी बताया कि 33% ओपीडी भी तीन साल में बढ़ गए हैं। केजरीवाल ने कहा, 3 साल पहले आपने हमें अप्रत्याशित बहुमत दिया, जिसकी वजह से आज दिल्ली में एक ईमानदार सरकार है। हमने बुनियादी मुद्दों जैसे सड़क, पानी, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य पर ढ़ेर सारा काम किया है और आगे भी ऐसे ही करते रहेंगे, बस अपना प्यार बनाए रखिएगा। इस मौके पर बोलते हुए केजरीवाल ने अपनी सरकार के किए गए तीन साल के कामों को गिनाया। इस दौरान उनका पूरा फोकस शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र पर रहा। केजरीवाल का दावा है कि शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जितना काम दिल्ली सरकार ने तीन साल में किया है वो आजादी के 70 साल बाद भी नहीं हुआ। इसके पीछे उन्होंने तर्क दिया, क्योंकि हमें अपने देशवासियों पर भरोसा है, उनपर गर्व है। आज विश्व के हर देश में और हर क्षेत्र में कोई भी बड़ा काम हो तो उसमें भारतियों का नाम जरूर आता है। यही वजह है कि उन्हें अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य देना हम अपना कर्तव्य समझते हैं ताकि वो देश का नाम रोशन कर सकें। केजरीवाल ने कहा कि हमने देशभर और विश्व के कई स्वास्थ्य मॉडल का अध्ययन किया और पाया कि हेल्थ का थ्रीटीयर सिस्टम सबसे अच्छा होगा। इस सिस्टम में तीन स्तरों पर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाती हैं- पहला मोहल्ला क्लीनिक, दूसरा पॉली क्लीनिक और तीसरा सुपर स्पेशेलिटी अस्पताल।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3