आदित्य हत्याकांड : मनोरमा की जमानत याचिका पर अब 19 को सुनवाई

गया: बिहार के गया में आदित्य सचदेव मर्डर केस में रॉकी यादव के चचेरे भाई टेनी यादव ने आज गया कोर्ट में सरेंडर कर दिया। टेनी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। जिस वक्त आदित्य की हत्या हुई थी, टेनी रॉकी के साथ था। इस मामले में रॉकी और उसकी मां के बॉडीगार्ड राकेश को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं रॉकी की मां मनोरमा देवी की अग्रिम ज़मानत की याचिका पर गया कोर्ट में 19 मई को सुनवाई होगी। मनोरमा देवी के घर में शराब मिलने के बाद उन्हें जेडीयू से निष्कासित कर दिया गया था और उनकी गिरफ्तारी के आदेश दिए थे, तब से वह फरार हैं।रॉकी सड़क पर झगड़े में 20 वर्षीय एक युवक की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या का आरोपी है। इस घटना के बाद से ही वह फरार चल रहा था। गिरफ्तारी के बाद रॉकी यादव को मीडिया के सामने पेश किया गया, जहां उसने पत्रकारों से कहा, "मैंने किसी को गोली नहीं मारी... मैं दिल्ली में था, और इसलिए लौटा, क्योंकि मेरी मां ने मुझे बुलाया...।"बिहार के गया निवासी छात्र आदित्य सचदेवा की रोडरेज में हुई हत्या के मामले में दूसरे मुख्य आरोपी टेनी यादव ने पुलिस को चकमा देते हुए कोर्ट में सरेंडर कर दिया। पुलिस की कई टीमें लगातार उसकी तलाश में दबिश दे रही थी लेकिन वह पुलिस के हत्‍थे नहीं चढ़ सका और सोमवार सुबह होते ही कोर्ट में पेश हो गया। हां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। टेनी यादव के सरेंडर को पुलिस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि पुलिस उसे गिरफ्तार करती तो उससे हत्या के कई राज जान सकती थी लेकिन कोर्ट के सामने पेश होकर उसने पुलिस के अरमानों पर पानी फेर दिया।  हालांकि माना ये भी जा रहा है कि पुलिस ने जानबूझकर उसे कोर्ट में सरेंडर करने का मौका दिया, जहां उसने जज के सामने वारदात में खुद के शामिल होने से ही इंकार कर दिया। उसने हत्या के बारे में कुछ भी जानकारी से इंकार किया है।  बता दें कि कुछ दिन पहले गया के कारोबारी श्याम सुंदर सचदेवा के बेटे आदित्य की रोडरेज के दौरान हत्या कर दी गई थी, जिसका आरोप जेडीयू एमएलसी मनोरमा देवी के बेटे रॉकी यादव पर लगा था। रॉकी यादव की रेंजरोवर कार को आदित्य की स्विफ्ट कार ने ओवरटेक कर दिया था।

भगवान कृष्‍ण और बुद्ध ने दुनिया को पढ़ाया समानता का पाठ

गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को महाबोधि मंदिर के दर्शन किए और वहां पर पूर्जा अर्चना भी की। उन्होंने वहां मौजूद दानपात्र में दान भी डाला। यहां आयोजित हिंदु-बौद्ध सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा कि भगवान बुद्ध और भगवान श्री कृष्ण ने दुनिया को समानता का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि बुद्ध के ज्ञान में हर समस्या का हल है। बुद्ध पर हिंदु दर्शन का असर था और वह सबसे साहसी शिक्षक भी थे। विवेकानंद ने भी बुद्ध की तारीफ की है।
इससे पूर्व वह सुबह करीब 11 बजे बोधगया पहुंचे थे। उनके साथ नई दिल्ली में आयोजित 'अंतरराष्ट्रीय हिन्दू-बौद्ध सम्मेलन' में भाग लेने वाले कई देशों के प्रतिनिधि भी शामिल थे। बुद्धभूमि पर प्रधानमंत्री की अगवानी राज्यपाल रामनाथ कोविंद ने किया। इस बीच नक्सलियों ने मगध बंद का एलान किया है। इस वजह से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं।
इसके पहले पीएम गया एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर उनका स्वागत पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष नंदकिशोर यादव सहित एनडीए के नेताओं ने किया। एयरपोर्ट पर राज्य सरकार की तरफ से उनका स्वागत करने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नहीं पहुंचे। राज्य सरकार की तरफ से उनका स्वागत मंत्री श्याम रजक ने किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह व पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी भी उपस्थित रहे।
गया एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। थोड़ी देर बाद वे बोधगया के लिए प्रस्थान कर गए।
इसके पहले शुक्रवार को पीएम के कारकेड का पूर्वाभ्यास किया गया। मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, गृह सचिव आमिर सुबहानी और डीजीपी पीके ठाकुर ने सुरक्षा-व्यवस्था का जायजा लिया। मुख्य सचिव ने तैयारियों को संतोषप्रद बताया है।
पीएम महाबोधि मंदिर के गर्भगृह में भगवान बुद्ध व बुद्धेश्वर महादेव की पूजा-अर्चना कर पवित्र बोधिवृक्ष पर पुष्प अर्पित करेंगे। साथ ही मंदिर परिसर में ही संघर्ष से बचाव और पर्यावरण जागरूकता विषय पर विदेशी प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे।
पीएम के संबोधन स्थल के समीप नव नालंदा महाविहार द्वारा ह्वेनसांग की मगध यात्रा और मगध क्षेत्र के बौद्ध स्थलों की प्रदर्शनी लगाई गई है, जिसका अवलोकन पीएम व विदेशी प्रतिनिधि करेंगे। वापसी में पीएम महाबोधि सोसाइटी की शाखा बोधगया जाएंगे। वहां जयश्री महाबोधि विहार में भगवान बुद्ध व उनके शिष्यों के अस्थि अवशेष का दर्शन करेंगे।
प्रधानमंत्री के बोधगया आगमन को लेकर नक्सलियों ने शुक्रवार की रात से 24 घंटे मगध बंद का एलान किया है। इसके मद्देनजर काफी संख्या में अद्र्धसैनिक बल व पुलिस के अधिकारियों व सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है। सीआरपीएफ का 'नेत्रा लाइव एरियल' महाबोधि मंदिर के समीप जमीन और आकाश से सुरक्षा की निगरानी करेगा।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3