सूरत में मीडिया से बोले राहुल गांधी- जीएसटी पर सरकार ने हमारी नहीं सुनी

सूरत। कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरने में लगे हुए हैं। गुजरात में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राहुल गांधी जीएसटी के मुद्दे को खासकर व्‍यापारियों के बीच उठा रहे हैं। नोटबंदी के एक साल होने पर राहुल गांधी ने बुधवार को सूरत पहुंचकर एक अनौपचारिक बैठक के दौरान जीएसटी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को विफल बताया। सूरत पहुंचे राहुल गांधी ने व्‍यापारियों से कहा, 'देखिए, मैं कई बार केंद्र सरकार से अपील कर चुका हूं कि पांच स्‍लैब्‍स के साथ जीएसटी बिल्‍कुल नहीं चल सकता है। जीएसटी का स्‍लैब अधिक से अधिक 18 फीसद तक होना चाहिए। इसलिए मैं शुरुआत से कहता आ रहा हूं कि इसमें सुधार की बेहद जरूरत है।' नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए ट्विटर पर लिखा, 'नोटबंदी एक त्रासदी है, हम लाखों ईमानदार लोगों के साथ खड़े हैं, जिनके जीवन और आजीविका को प्रधानमंत्री के निर्णय ने तबाह कर दिया।' बता दें कि इससे पहले भी राहुल गांधी चुनाव प्रचार के दौरान यह कह चुके हैं कि अगर उनकी सरकार आती है, तो वह जीएसटी को पूरी तरह से बदल देंगे, जो व्‍यापारियों को सहूलियत देगा, परेशानी नहीं। गौरतलब है कि गुजरात में अगामी 9 और 14 दिसंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने हैं। चुनाव के नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे। राहुल गांधी, भाजपा को गुजरात में मात देने के लिए काफी कोशिश करते नजर आ रहे हैं। गुजरात में राहुल गांधी काफी सभाएं कर चुके हैं।

राहुल का मोदी सरकार पर हमला, बोले- भारत की रीढ़ की तोड़ने के लिए लाया गया जीएसटी

मोदी ने ईमानदारों को बैंक के आगे खड़ा कर दिया, बैंक के पीछे खड़े रहे चोर: राहुल गांधी अक्षरधाम मंदिर से राहुल ने की दौरे की शुरुआत, जीएसटी को लेकर साधा केंद्र पर निशाना गांधीनगर। गुजरात चुनाव के चलते कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी शनिवार को अपने तीन दिवसीय दौरे पर अहमदाबाद पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद राहुल ने पहले अक्षरधाम मंदिर में दर्शन किए। गुजरात चुनाव के चलते कहा जा रहा है कि राहुल ने रणनीति में बदलाव किया और उसी का नतीजा है वो एक के बाद एक मंदिरों में दर्शन के लिए जा रहे हैं। अपने दौरे पर राहुल साबरकांठा पहुंचे जहां उन्होंने राहुल गांधी ने जीएसटी को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि जीएसटी ने देश की रीढ़ तोडी है तो वहीं कुछ लोगों की रीढ़ को मजबूत किया है। जो सरकार रात 8 बजे लोगों को यह कहती है कि अगले 4 घंटे में नोटबंदी होगी वो यह नहीं जानती कि जनता के दिल में क्या है। इससे पहले राहुल गांधी ने छिलोदा में लोगों को संबोधित करते हुए जीएसटी काउंसिल द्वारा टैक्स स्लैब में किए गए बदलावों का स्वागत किया और कहा कि यह अच्छा है लेकिन हम अभी भी खुश नहीं हैं। अभी हम रूकेंगे नहीं। देश को पांच अलग टैक्स नहीं बल्कि एक टैक्स चाहिए। जीएसटी में स्ट्रक्चरल बदलाव चाहिए।राहुल ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी और हिंदूस्तान का जनता ने भाजपा पर दबाव डाला और काफी चीजें 28 प्रतिशत से 18 प्रतिशत टैक्स के दायरे में आ गईं। इससे पहले राहुल गांधी शनिवार की सुबह गांधीनगर पहुंचे और सबसे पहले अक्षरधाम मंदिर में पहुंचे। भागवान के सामने मत्‍था टेका और फिर पूरे मंदिर देखा। मंदिर के पुजारियों से भी बातचीत की। राहुल गांधी का यह एकदम नया रूप है, जो पहले देखने को नहीं मिलता था। दरअसल, राहुल को शायद लगता है कि गुजरात चुनाव में अच्‍छा प्रदर्शन करना है, तो ईश्‍वर की शरण में जाना ही होगा। इसीलिए राहुल अपने पिछले गुजरात दौरे के दौरान भी एक मंदिर में दर्शन करने पहुंच गए थे।

More Articles...

  1. गुजरात विधानसभा चुनाव : बीजेपी ने 70 उम्‍मीदवारों की पहली सूची की जारी, गोधरा से यह होंगे प्रत्याशी...
  2. सभा कैंसिल हुई तो BJP पर भड़के हार्दिक, सीडी पर करने वाले थे 'खुलासा'
  3. गुजरात सरकार ने बच्चों को बांटे अखिलेश यादव की तस्वीर वाले स्कूली बैग
  4. योगी का राहुल पर वार, 'विकास पर बात करने वाले बाढ़ के समय इटली चले गए थे'
  5. प्रधानमंत्री देश की पहली 'रोल ऑन-रोल ऑफ' फ़ेरी सेवा का करेंगे उद्घाटन
  6. गुजरात चुनाव 2017 : राहुल गांधी ने रोजगार के मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी को घेरा
  7. चुनाव से पहले गुजरात में तहलका, क्या है हार्दिक पटेल के सीडी कांड का पूरा सच?
  8. आमिर के बयान पर नगमा ने भाजपा पर साधा निशाना
  9. इशरत जहां मुठभेड़ मामलों में जमानत पर छूटे पांडे को डीजीपी का अतिरिक्त प्रभार
  10. गुजरात : पाटीदार प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेने पर बवाल, सूरत में दो बसें

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3