सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस में डीजी वंजारा बरी, 8 साल रह चुके हैं जेल में

CBI कोर्ट ने DG वंजारा, राजस्थान SOG चीफ को किया बरी! सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस में गुजरात के पूर्व DIG डीजी वंजारा को बड़ी राहत मिली है. मुंबई की स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने उन्हें इस मामले में बरी कर दिया है. सोहराबुद्दीन केस 2005 में हुआ था. इस केस में बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह समेत कई नेताओं को पहले ही बरी किया जा चुका है. आपको बता दें कि डीजी वंजारा पिछले ही वर्ष 9 साल के बाद गुजरात लौटे थे. वंजारा 8 साल इस मामले में जेल में रहे.इस दौरान उनका ढोल नगाड़ों के साथ स्वागत हुआ था. इस केस में स्पेशल कोर्ट ने राजस्थान के आईपीएस अधिकारी एम. एन. दिनेश को भी बरी कर दिया.गौरतलब है कि सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में अप्रैल 2007 में वंजारा को गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद इशरत जहां एनकाउंटर मामले में भी उन्हें गिरफ्तार किया गया. स्पेशल सीबीआई कोर्ट से इशरत जहां और सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में जमानत पर रिहा हुए वंजारा को गुजरात में प्रवेश के अनुमति मिल गई है. कोर्ट के इस आदेश से वंजारा के 9 साल के गुजरात वनवास का अंत हो गया है. वंजारा ने गुजरात में खुद की वापसी को गुजरात पुलिस की जीत बताया. जेल से रिहा होने के बाद वंजारा ने गुजरात कि धरती पर पैर नहीं रखा था और महाराष्ट्र चले गए थे. उन्होंने कहा था, 'मुझे इस बात की खुशी है कि इतने साल बाद मैं अपने घर आया हूं. मेरा जो स्वागत हो रहा है वो गुजरात पुलिस का है, ये हिंदुस्तान के देश भक्त का स्वागत है.' वंजारा कि घर वापसी के मौके पर उनके स्वागत के लिए नयी मर्सिडीज लाई गई, जिस पर वह अपने घर के लिए रवाना हुए. सोहराबुद्दीन कथित मुठभेड़ मामले में राजकुमार पांडियान, डीजी वंजारा , और दिनेश एमएन को 24 अप्रैल, 2007 को गिरफ्तार किया गया था.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3