दर्जनों वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर चोर ग़िरफ़्तार पुलिस ने ली चैन की सांस

फरीदाबाद। फरीदाबाद में पिछले कई सालों से सैक्टर-55 और सैक्टर-23 संजय कालोंनी में सक्रिय 2 ऐसे शातिर चोर है जिन्होंने पुरे इलाके में पुलिस और आमजन के नाक में दम कर रखा था। दोनों शातिर चोरो ने अब तक 30 से ज्यादा चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके है। लेकिन अब यह चोर क्राइम ब्रांच डी.एल.एफ की टीम के हत्थे चढ़ गए हैं। काइम ब्रांच डी.एल.एफ इंचार्ज सतेन्द्र सिंह ने बताया कि 2010 में एक बाइक चोरी कर अपराध जगत में कदम रखने वाले 2 शातिर चोर भोले-भाले लोगों के मकानों को उस वक्त निशाना बनाते थे जब मकान के सभी सदस्य अपना घर छोड़कर बाहर चले जाते है । दोनों आरोपी दिन में तो रैकी करते थे बाद में रात को उन्ही मकानों को अपना निशाना बनाते थे। चुराए हुए घरेलू समान को वह उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में जाकर सस्ते दामों में बेचते थे। चोरो ने पूछताछ में खुलासा किया है की उन्होंने अब तक 30 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया है। आरोपियों से एल.ई.डी टैलीविजन, 2 लैपटॉप, कुछ सोने-चांदी के जेवरात और अन्य घरेलू सामग्री बरामदा हुए है। फ़िलहाल सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है और उनसे पूछताछ जारी है।

हर जवान को मिलेगा वन रैंक वन पेंशन का लाभ: मोदी

फरीदाबाद। बदरपुर-फरीदाबाद मेट्रो रूट का उद्घाटन करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए वन रैंक वन पेंशन पर अपना रुख साफ करते हुए कहा कि सेना के हर जवान को वन रैंक वन पेंशन मिलेगी। शनिवार को रक्षा मंत्री द्वारा इसका एलान किए जाने के बाद प्रधानमंत्री पहली बार इस मुद्दे पर बोले और कहा कि, वीआरएस को लेकर जवानों को भ्रमित किया जा रहा है। सेना के हर पेंशनधारी जवान को वन रैंक वन पेंशन का लाभ मिलेगा।
उन्होंने कहा कि हम सेना के जवानों का सम्मान करते हैं। वन रैंक वन पेंशन का मामला पिछले 42 साल से लटका था, लेकिन हमने केवल 16 महीनों में इसे लागू किया। मैंने रेवाड़ी में पहली बार वन रैंक वन पेंशन का जिक्र किया था। इसे लागू करने की बात आई तो हमने हिसाब लगाया कि ये काम 300 करोड़ में पूरा होने वाला नहीं है इसमें 8-10 हजार करोड़ लगेंगे। हमने पहले दिन से इस पर काम शुरू किया। देश के लिए लड़ने और अपनी जान देने वालों के सम्मान से बढ़कर कुछ नहीं है। हमने कोई कमीशन नहीं बनाया।
कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि कई लोग इस पर राजनीति कर रहे हैं। जिन्होंने पिछले 40 साल से कुछ नहीं किया उन्हें इस बारे में बोलने का कोई हक नहीं है। जिन्होंने खुद कुछ नहीं किया उन्हें बोलने का कोई हक है क्या? यह फैशन हो गया है कि जब भी हमारी सरकार कुछ अच्छा करती है तो जिन लोगों को जनता ने रिजेक्ट कर दिया वो अड़ंगे लगाकर देश को आगे बढ़ने से रोकते हैं।'
इस बीच खबर है कि पीएम के भाषण के बाद वन रैंक वन पेंशन की मांग को लेकर अनशन कर रहे पूर्व सैनिक इसे खत्म कर सकते हैं।
इससे पहले उन्होंने कहा कि देश केवल राजनीति नहीं राष्ट्रनीति से चलता है। उन्होंने कहा कि आप सबको मालूम है हरियाणा मेंरा दूसरा घर है। गुजरात में कई साल गुजारने के बाद मैं लंबे तक हरियाणा में भी रहा। आपके प्यार को मैं विकास के साथ लौटाऊंगा
उन्होंने कहा कि आपको विकास चाहिए, मैं पुरानी सरकारों पर टीका-टिप्पणी करे रुक जाऊं यह ठीक नहीं है। देश केवल राजनीति से नहीं बल्कि राष्ट्रनीति से चलता है। जबसे आपने हमें चुना है हमारा लक्ष्य केवल विकास करना है। अगर कोई काम अधूरा रह गया है तो यह सरकार की जिम्मेदारी है कि उसे पूरा करे, किसी की आलोचना करने से समाधान नहीं होगा। सबको साथ मिलकर साथ चलने से आगे बढ़ेंगे। केंद्र और राज्य साथ मिलकर काम कर रहे हैं। विकास के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर जरूरी है।
सभा को संबोधित करते हुए पीएम ने एक और मेट्रो की घोषणा भी कर दी। उन्होंने कहा कि अब हरियाण गर्व से कह सकता है कि हमारे पास भी मेट्रो है। यह मेट्रो यहां से लौट नहीं जाएगी बल्कि वल्लभगढ़ के लिए काम शुरू होगा। फरीदाबाद को एक और तोहफा देना चाहता हूं, मुजेसर से आगे बल्लभगढ़ तक जाएगी मेट्रो, 6-7 सौ करोड़ की और लागत आएगी।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3