दर्जनों वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर चोर ग़िरफ़्तार पुलिस ने ली चैन की सांस

फरीदाबाद। फरीदाबाद में पिछले कई सालों से सैक्टर-55 और सैक्टर-23 संजय कालोंनी में सक्रिय 2 ऐसे शातिर चोर है जिन्होंने पुरे इलाके में पुलिस और आमजन के नाक में दम कर रखा था। दोनों शातिर चोरो ने अब तक 30 से ज्यादा चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके है। लेकिन अब यह चोर क्राइम ब्रांच डी.एल.एफ की टीम के हत्थे चढ़ गए हैं। काइम ब्रांच डी.एल.एफ इंचार्ज सतेन्द्र सिंह ने बताया कि 2010 में एक बाइक चोरी कर अपराध जगत में कदम रखने वाले 2 शातिर चोर भोले-भाले लोगों के मकानों को उस वक्त निशाना बनाते थे जब मकान के सभी सदस्य अपना घर छोड़कर बाहर चले जाते है । दोनों आरोपी दिन में तो रैकी करते थे बाद में रात को उन्ही मकानों को अपना निशाना बनाते थे। चुराए हुए घरेलू समान को वह उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में जाकर सस्ते दामों में बेचते थे। चोरो ने पूछताछ में खुलासा किया है की उन्होंने अब तक 30 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया है। आरोपियों से एल.ई.डी टैलीविजन, 2 लैपटॉप, कुछ सोने-चांदी के जेवरात और अन्य घरेलू सामग्री बरामदा हुए है। फ़िलहाल सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है और उनसे पूछताछ जारी है।

प्रद्युम्न के हत्यारे को 3 तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा, स्कूल प्रिंसिपल सस्पेंड

गुरुग्राम। रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए स्कूल प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है। वहीं स्कूल को सुरक्षा देने वाली एजेंसी के खिलाफ भी कार्रवाई हुई है। हत्या के आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे 3 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। इस सब के बीच एक बड़ा खुलासा हुआ है। मृतक छात्र के सहपाठी के पिता ने मीडिया से बात के दौरान बताया है कि हत्या के बाद स्कूल वालों ने प्रद्युम्न के सहपाठियों से उसकी बॉटल पर लगे खून के धब्बे धुलवाए थे। वहीं दूसरी तरफ हत्या के बाद से ही स्कूल प्रशासन की तरफ से कोई बयान नहीं आया है। हत्या को लेकर अन्य छात्रों के अभिभावकों में जबरदस्त गुस्सा है जिसके चलते वो स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों की मांग है कि स्कूल के प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इस बीच प्रद्युम्न के परिजन शनिवार सुबह कमिश्नर के दफ्तर पहुंचे और इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की। स्कूल के बाहर भारी सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं इसके बावजूद लोगों ने स्कूल के मुख्य दरवाजे का ताला तोड़कर अंदर घुसने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने लोगों को बाहर किया और फिर दरवाजा बंद कर दिया। हत्या के बाद प्रद्युम्न की मां को रो-रोकर बुरा हाल है। वो बार-बार अपने बेटे को याद कर रही है। उन्होंने कहा कि मैंने कभी नहीं सोचा था अपने बेटे को ऐसे हाल में देखूंगी। मेरे बेटे का स्कूल बस से कोई लेना देना नहीं था, वो तो स्कूल बस में जाता भी नहीं थी। स्कूल और उसके प्रिंसिपल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

More Articles...

  1. रेयान इंटरनेशनल: प्रद्युम्न मर्डर केस की सीबीआई जांच में नया मोड़
  2. हर जवान को मिलेगा वन रैंक वन पेंशन का लाभ: मोदी
  3. रोहतक में सेना का फ्लैग मार्च, दिल्ली पहुंची जाट आरक्षण की आग, गुड़गांव में प्रदर्शन
  4. शिवसैनिकों ने जबरन बंद करवाया केएफसी, चिकन खा रहे लोगों को भगाया
  5. हरियाणवी डांसर हर्षिता हत्याकांड में सनसनीखेज खुलासा, बहन ने कहा- मेरे पति ने मारा
  6. अटाली गांव में तनाव थमा, विस्थापित परिवार घर लौटे
  7. हरियाणा : आरक्षण की मांग को लेकर जाटों का प्रदर्शन
  8. गुड़गांवः मेट्रो स्टेशन के अंदर युवती का मर्डर
  9. पुलिस को मिली हार्ड डिस्क, खोलेगी राम रहीम के सारे राज, 45 लोगों को नोटिस
  10. शत्रुघ्न की भाभी ने किया सुसाइड, सड़ता रहा शव

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3