प्रद्युम्न मर्डर केस में एक और स्टूडेंट का नाम, सीबीआई कर सकती है गिरफ्तारी

गुडगांव प्रद्युम्न मर्डर केस में सीबीआई की टीम ने अहम खुलासा किया है. सीबीआई के मुताबिक स्कूल की गैलरी में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में आरोपी छात्र प्रद्युम्न के साथ बाथरूम की तरफ जाता दिख रहा है. यहां तक कि प्रद्युम्न के कंधे पर उसका हाथ भी दिख रहा है. सीबीआई ने फुटेज के हवाले से खुलासा किया है कि वारदात के दिन आरोपी छात्र प्रद्युम्न के साथ बाथरूम में गया था. कुछ देर बाद वह अकेले ही बाथरुम से बाहर आता दिख रहा है. जबकि फुटेज में वारदात से पहले ही बस कंडक्टर को बाथरूम में जाते और बाहर निकलते देखा जा सकता है. सीबीआई सूत्रों के मुताबिक एफएसएल हरियाणा ने चाकू की जांच की है और हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार के रूप में उसकी पहचान भी कर ली है. सही बात ये है कि हत्या में प्रयुक्त चाकू सोहना की एक विशेष दुकान से खरीदा गया था. गुरुवार की देर शाम को सीबीआई की टीम प्रद्युम्न मर्डर केस के आरोपी छात्र को लेकर सोहना अनाज मंडी पहुंची और वहां चाकू बेचने वाले दुकानदार से आरोपी छात्र की पहचान करवाने की कोशिश भी की. हालांकि दुकानदार ने आरोपी छात्र को पहचानने से इनकार कर दिया. दुकानदार ने सीबीआई के अधिकारियों से बताया कि दो महीने पहले उसकी दुकान पर किसने चाकू खरीदा, ऐसे उसे याद नहीं है. साथ ही उसकी दुकान के आस-पास कोई सीसीटीवी कैमरा भी नहीं लगा है. इसलिए वह इस बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं दे पाया. जब सीबीआई की टीम ने दुकानदार को वारदात में इस्तेमाल किए गए चाकू की फ़ोटो दिखाई, तो दुकानदार ने सीबीआई को बताया कि कुछ दिनों पहले वैसे चाकू उसने अपनी दुकान पर बेचे हैं. इसके बाद सीबीआई की टीम ने उसकी दुकान से करीब आधा दर्जन वैसे ही चाकू बतौर सैंपल खरीद लिए. जिनका भुगतान भी दुकानदार को किया गया. उधर, सीबीआई के सूत्रों से पता चला कि प्रद्युम्न मर्डर केस की शुरूआती जांच में गुडगांव पुलिस की जल्दबाजी और लापरवाही के चलते ही बस कंडक्टर अशोक कुमार को आरोपी बनाया गया था. यहां तक कि पुलिस ने ही हत्या में प्रयुक्त चाकू बताकर, वो हथियार भी प्लांट किया था. उस वक्त गुड़गांव पुलिस ने दावा किया था कि आरोपी अशोक ने वह चाकू आगरा की किसी दुकान से खरीदकर बस की टूल किट में रखा था. वही चाकू वह स्कूल में लेकर गया था.

हर जवान को मिलेगा वन रैंक वन पेंशन का लाभ: मोदी

फरीदाबाद। बदरपुर-फरीदाबाद मेट्रो रूट का उद्घाटन करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए वन रैंक वन पेंशन पर अपना रुख साफ करते हुए कहा कि सेना के हर जवान को वन रैंक वन पेंशन मिलेगी। शनिवार को रक्षा मंत्री द्वारा इसका एलान किए जाने के बाद प्रधानमंत्री पहली बार इस मुद्दे पर बोले और कहा कि, वीआरएस को लेकर जवानों को भ्रमित किया जा रहा है। सेना के हर पेंशनधारी जवान को वन रैंक वन पेंशन का लाभ मिलेगा।
उन्होंने कहा कि हम सेना के जवानों का सम्मान करते हैं। वन रैंक वन पेंशन का मामला पिछले 42 साल से लटका था, लेकिन हमने केवल 16 महीनों में इसे लागू किया। मैंने रेवाड़ी में पहली बार वन रैंक वन पेंशन का जिक्र किया था। इसे लागू करने की बात आई तो हमने हिसाब लगाया कि ये काम 300 करोड़ में पूरा होने वाला नहीं है इसमें 8-10 हजार करोड़ लगेंगे। हमने पहले दिन से इस पर काम शुरू किया। देश के लिए लड़ने और अपनी जान देने वालों के सम्मान से बढ़कर कुछ नहीं है। हमने कोई कमीशन नहीं बनाया।
कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि कई लोग इस पर राजनीति कर रहे हैं। जिन्होंने पिछले 40 साल से कुछ नहीं किया उन्हें इस बारे में बोलने का कोई हक नहीं है। जिन्होंने खुद कुछ नहीं किया उन्हें बोलने का कोई हक है क्या? यह फैशन हो गया है कि जब भी हमारी सरकार कुछ अच्छा करती है तो जिन लोगों को जनता ने रिजेक्ट कर दिया वो अड़ंगे लगाकर देश को आगे बढ़ने से रोकते हैं।'
इस बीच खबर है कि पीएम के भाषण के बाद वन रैंक वन पेंशन की मांग को लेकर अनशन कर रहे पूर्व सैनिक इसे खत्म कर सकते हैं।
इससे पहले उन्होंने कहा कि देश केवल राजनीति नहीं राष्ट्रनीति से चलता है। उन्होंने कहा कि आप सबको मालूम है हरियाणा मेंरा दूसरा घर है। गुजरात में कई साल गुजारने के बाद मैं लंबे तक हरियाणा में भी रहा। आपके प्यार को मैं विकास के साथ लौटाऊंगा
उन्होंने कहा कि आपको विकास चाहिए, मैं पुरानी सरकारों पर टीका-टिप्पणी करे रुक जाऊं यह ठीक नहीं है। देश केवल राजनीति से नहीं बल्कि राष्ट्रनीति से चलता है। जबसे आपने हमें चुना है हमारा लक्ष्य केवल विकास करना है। अगर कोई काम अधूरा रह गया है तो यह सरकार की जिम्मेदारी है कि उसे पूरा करे, किसी की आलोचना करने से समाधान नहीं होगा। सबको साथ मिलकर साथ चलने से आगे बढ़ेंगे। केंद्र और राज्य साथ मिलकर काम कर रहे हैं। विकास के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर जरूरी है।
सभा को संबोधित करते हुए पीएम ने एक और मेट्रो की घोषणा भी कर दी। उन्होंने कहा कि अब हरियाण गर्व से कह सकता है कि हमारे पास भी मेट्रो है। यह मेट्रो यहां से लौट नहीं जाएगी बल्कि वल्लभगढ़ के लिए काम शुरू होगा। फरीदाबाद को एक और तोहफा देना चाहता हूं, मुजेसर से आगे बल्लभगढ़ तक जाएगी मेट्रो, 6-7 सौ करोड़ की और लागत आएगी।

More Articles...

  1. रोहतक में कबड्डी खिलाड़ी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या
  2. हरियाणवी डांसर हर्षिता हत्याकांड में सनसनीखेज खुलासा, बहन ने कहा- मेरे पति ने मारा
  3. प्रद्युम्न मर्डर केस: वारदात स्पॉट पर क्राइम सीन रीक्रिएट करेगी सीबीआई,, आरोपी..
  4. अटाली गांव में तनाव थमा, विस्थापित परिवार घर लौटे
  5. पीड़ितों से मिलने रोहतक पहुंचे सीएम खट्टर को दिखाए काले झंडे
  6. प्रद्युम्न के हत्यारे को 3 तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा, स्कूल प्रिंसिपल सस्पेंड
  7. पुलिस को मिली हार्ड डिस्क, खोलेगी राम रहीम के सारे राज, 45 लोगों को नोटिस
  8. रोहतक में सेना का फ्लैग मार्च, दिल्ली पहुंची जाट आरक्षण की आग, गुड़गांव में प्रदर्शन
  9. शिवसैनिकों ने जबरन बंद करवाया केएफसी, चिकन खा रहे लोगों को भगाया
  10. राम रहीम के दबाव में भक्त 'पत्नी' को कहते थे 'बहन', तो कई हो चुके थे समलैंगिक

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3