रामरहीम केस में बड़ी कामयाबी राजस्थान में पकड़ा गया हनीप्रीत का ड्राइवर

खुल सकते हैं कई अहम राज नई दिल्ली गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद उसकी चहेती हनीप्रीत को पुलिस शिद्दत से तलाश कर रही है. इसी बीच हरियाणा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने हनीप्रीत के विश्वास पात्र ड्राइवर प्रदीप को राजस्थान के लक्ष्मणगढ़ इलाके से गिरफ्तार कर लिया है. गुरमीत राम रहीम सिंह की सबसे खास रही हनीप्रीत को ढूंढने में भले ही हरियाणा पुलिस अब तक नाकाम रही हो लेकिन पुलिस ने हनीप्रीत के ड्राइवर प्रदीप को राजस्थान के लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र से हिरासत में ले लिया है. पिछले कई दिनों से प्रदीप सालासर में छिपा हुआ था. प्रदीप की गिरफ्तारी की पुष्टि हरियाणा के डीजीपी ने भी की है. पुलिस को उम्मीद है कि प्रदीप से हनीप्रीत का कोई न कोई सुराग उनके हाथ लग सकता है. हनीप्रीत की तलाश में हरियाणा पुलिस कई प्रदेशों की खाक छान रही है. साथ ही नेपाल बॉर्डर से लगे इलाकों पर पुलिस की खास नजर है. बताते चलें कि पुलिस हनीप्रीत तक पहुंचने के लिए डेरा सच्चा सौदा की मैनेजिंग कमेटी की चेयरपर्सन विपासना इंन्सा को जरिया बनाना चाहती है. रोहतक जेल में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम का जो भी राजदार रहा है, पुलिस की अब उस पर पैनी नजर है. गौरतलब है कि विपासना इन्सां और हनीप्रीत इन्सां के बीच छत्तीस का आंकड़ा माना जाता है. एक तरफ जहां हनीप्रीत ने खुद को गुरमीत राम रहीम की असली वारिस होने का ऐलान कर डाला था. वहीं गुरमीत के जेल जाने के बाद से विपासना कहती आ रही है कि हनीप्रीत का डेरा सच्चा सौदा से कोई लेना देना नहीं है और ना ही उसकी कोई हिस्सेदारी है. साफ है कि डेरे के मालिकाना हक को लेकर विवाद है. खुद विपासना भी नहीं चाहती कि हनीप्रीत का अब डेरे में कोई दखल हो. इसी खींचतान के बीच हनीप्रीत को ढूंढना पुलिस के लिए बड़ा सिरदर्द बना हुआ है. लुक आउट नोटिस जारी करने के बावजूद भी पुलिस हनीप्रीत का कोई सुराग नहीं लगा पाई है. सूत्रों के मुताबिक विपासना के फोन पर 25 अगस्त की रात को हनीप्रीत की एक कॉल आई थी. इसमें हनीप्रीत की लोकेशन राजस्थान के बाड़मेर में थी. हनीप्रीत को सार्वजनिक तौर आखिरी बार रोहतक में देखा गया था. वहां वो डेरे के एक अनुयायी के घर पर ही एक घंटे तक रुकी थी. उसकी कार आखिरी बार हिसार रोड पर जाती देखी गई थी. उसके बाद से ही हनीप्रीत की कोई भनक तक पुलिस को नहीं लग सकी है. पुलिस पर सरकार का दबाव है कि वो जल्दी से जल्दी देशद्रोह के मामले में वांछित हनीप्रीत और आदित्य इन्सां को पकड़ कर कोर्ट मे पेश करे. बहरहाल अब देखना है कि हनीप्रीत के गुम रहने की गुत्थी हरियाणा पुलिस कब तक सुलझा पाती है.

हर जवान को मिलेगा वन रैंक वन पेंशन का लाभ: मोदी

फरीदाबाद। बदरपुर-फरीदाबाद मेट्रो रूट का उद्घाटन करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए वन रैंक वन पेंशन पर अपना रुख साफ करते हुए कहा कि सेना के हर जवान को वन रैंक वन पेंशन मिलेगी। शनिवार को रक्षा मंत्री द्वारा इसका एलान किए जाने के बाद प्रधानमंत्री पहली बार इस मुद्दे पर बोले और कहा कि, वीआरएस को लेकर जवानों को भ्रमित किया जा रहा है। सेना के हर पेंशनधारी जवान को वन रैंक वन पेंशन का लाभ मिलेगा।
उन्होंने कहा कि हम सेना के जवानों का सम्मान करते हैं। वन रैंक वन पेंशन का मामला पिछले 42 साल से लटका था, लेकिन हमने केवल 16 महीनों में इसे लागू किया। मैंने रेवाड़ी में पहली बार वन रैंक वन पेंशन का जिक्र किया था। इसे लागू करने की बात आई तो हमने हिसाब लगाया कि ये काम 300 करोड़ में पूरा होने वाला नहीं है इसमें 8-10 हजार करोड़ लगेंगे। हमने पहले दिन से इस पर काम शुरू किया। देश के लिए लड़ने और अपनी जान देने वालों के सम्मान से बढ़कर कुछ नहीं है। हमने कोई कमीशन नहीं बनाया।
कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि कई लोग इस पर राजनीति कर रहे हैं। जिन्होंने पिछले 40 साल से कुछ नहीं किया उन्हें इस बारे में बोलने का कोई हक नहीं है। जिन्होंने खुद कुछ नहीं किया उन्हें बोलने का कोई हक है क्या? यह फैशन हो गया है कि जब भी हमारी सरकार कुछ अच्छा करती है तो जिन लोगों को जनता ने रिजेक्ट कर दिया वो अड़ंगे लगाकर देश को आगे बढ़ने से रोकते हैं।'
इस बीच खबर है कि पीएम के भाषण के बाद वन रैंक वन पेंशन की मांग को लेकर अनशन कर रहे पूर्व सैनिक इसे खत्म कर सकते हैं।
इससे पहले उन्होंने कहा कि देश केवल राजनीति नहीं राष्ट्रनीति से चलता है। उन्होंने कहा कि आप सबको मालूम है हरियाणा मेंरा दूसरा घर है। गुजरात में कई साल गुजारने के बाद मैं लंबे तक हरियाणा में भी रहा। आपके प्यार को मैं विकास के साथ लौटाऊंगा
उन्होंने कहा कि आपको विकास चाहिए, मैं पुरानी सरकारों पर टीका-टिप्पणी करे रुक जाऊं यह ठीक नहीं है। देश केवल राजनीति से नहीं बल्कि राष्ट्रनीति से चलता है। जबसे आपने हमें चुना है हमारा लक्ष्य केवल विकास करना है। अगर कोई काम अधूरा रह गया है तो यह सरकार की जिम्मेदारी है कि उसे पूरा करे, किसी की आलोचना करने से समाधान नहीं होगा। सबको साथ मिलकर साथ चलने से आगे बढ़ेंगे। केंद्र और राज्य साथ मिलकर काम कर रहे हैं। विकास के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर जरूरी है।
सभा को संबोधित करते हुए पीएम ने एक और मेट्रो की घोषणा भी कर दी। उन्होंने कहा कि अब हरियाण गर्व से कह सकता है कि हमारे पास भी मेट्रो है। यह मेट्रो यहां से लौट नहीं जाएगी बल्कि वल्लभगढ़ के लिए काम शुरू होगा। फरीदाबाद को एक और तोहफा देना चाहता हूं, मुजेसर से आगे बल्लभगढ़ तक जाएगी मेट्रो, 6-7 सौ करोड़ की और लागत आएगी।

More Articles...

  1. रोहतक में कबड्डी खिलाड़ी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या
  2. शिवसैनिकों ने जबरन बंद करवाया केएफसी, चिकन खा रहे लोगों को भगाया
  3. रेयान मामला: बैकफुट पर हरियाणा सरकार, सीएम खट्टर सीबीआई जांच को राजी
  4. अटाली गांव में तनाव थमा, विस्थापित परिवार घर लौटे
  5. पीड़ितों से मिलने रोहतक पहुंचे सीएम खट्टर को दिखाए काले झंडे
  6. गुड़गांवः मेट्रो स्टेशन के अंदर युवती का मर्डर
  7. डेरे में गुफा से गर्ल्‍स हॉस्‍टल का गुप्‍त रास्‍ता मिला, एके 47 के मैगजीन का बाक्‍स बरामद
  8. रोहतक में सेना का फ्लैग मार्च, दिल्ली पहुंची जाट आरक्षण की आग, गुड़गांव में प्रदर्शन
  9. शत्रुघ्न की भाभी ने किया सुसाइड, सड़ता रहा शव
  10. हरियाणा मुख्‍य सचिव का बयान, डेरा मुख्यालय के भीतर नहीं घुसी सेना

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3