अमरनाथ यात्रा पर हमले के बाद सरकार एक्टिव, हाईलेवल मीटिंग में हुए 5 बड़े फैसले

अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर पर चल रही उच्च स्तरीय बैठक संपन्न हो गई है. इस बैठक में एनएसए अजीत डोभाल, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, आईबी चीफ, रॉ चीफ सहित गृह मंत्रालय के दूसरे बड़े अधिकारी शामिल हुए. बैठक में यह महत्वपूर्ण निर्णय हुआ कि हमला करने वाले आतंकियों को ढूंढ कर मार गिराया जाए. पांच बिंदुओं पर बड़े निर्णय लगभग सवा घंटे तक चली इस बैठक में अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा को और पुख्ता करने के लिए 5 मुख्य बिंदुओं पर बड़े निर्णय लिए गए- 1. हमले को अंजाम देने वाले आतंकियों को मार गिराया जाए. सूत्रों के मुताबिक़ आतंकियों के ख़िलाफ़ जॉइंट ऑपरेशन करके उनको खत्म करने का निर्णय लिया गया, सुरक्षा बल सर्च ऑपरेशन में जुटी. 2. किसी भी अनरजिस्टर्ड गाड़ी और तीर्थ यात्रियों के अमरनाथ यात्रा करने से पहले उन पर रखी जय कड़ी नज़र. अमरनाथ यात्रा के दर्शन कर वापस लौटने वालों पर नज़र रखी जाए और उनको सुरक्षा घेरे से जाकर खरीदारी और साइट सीइंग पर नज़र रखा जाए. 3. गृह मंत्रालय के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक CRPF की रोज़ाना जाने वाली अमरनाथ यात्रा की convy व्यवस्था को और सुदृढ़ करने तथा अलग-अलग जगहों पर ड्रोन से और ज्यादा निगरानी करने के निर्देश गृह मंत्रालय की तरफ से दिए गए. सीआरपीएफ डीजी आर आर भटनागर कश्मीर में जाकर बालटाल और पहलगाम के रूट की सुरक्षा को और पुख्ता करके ग्राउंड रिपोर्ट गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सौंपेंगे. 4. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर को भी जम्मू-कश्मीर जाने के लिए कहा है. 3 बजे गृह राज्य मंत्री दिल्ली से कश्मीर के लिए रवाना होंगे. वहां पर जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री, राज्यपाल, और सुरक्षा बलों के साथ बैठक करेंगे. 5. गृह मंत्रालय ने रियल टाइम एक्शन के लिए इंटेलीजेंस इनपुट को और मजबूत करने को लेकर सुरक्षा एजेंसियों से कहा, साथ ही आतंकियों के मूवमेंट की रियल टाइम जानकारी शेयर करने को लेकर बैठक में हुई बात. शुरुआती जांच के अनुसार, श्रीनगर से जम्मू की ओर जा रही बस जैसे ही अनंतनाग में बटेंगू के पास पहुंची बाइक से आए आतंकियों ने बस पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. बस के चालक ने रफ्तार तेज कर बस को अगले चौक तक पहुंचाया. आतंकी अंधाधुंध फायरिंग के बाद भाग गए. इस हमले की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तैयब्बा ने ली है. हाल के दिनों में सुरक्षाबलों ने अपने कई ऑपरेशनों में लश्कर आतंकियों के ढेर किया है. पिछले हफ्ते ही सुरक्षाबलों ने 17 घंटे चले ऑपरेशन में लश्कर कमांडर बशीर लश्करी समेत 3 आतंकियों को ढेर कर दिया था.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3