कश्मीर में लश्कर के टॉप कमांडर समेत 2 आतंकी ढेर, फोर्सेस पर हुआ पथराव

अय्याशी करता था अबु दुजाना, कश्मीरी लड़कियों के लिए बन गया था खतरा श्रीनगर सेना को मंगलावार के दिन जम्मू कश्मीर में बड़ी कामयाबी मिली है. कश्मीर घाटी के पुलवामा जिले में सेना ने आतंकी मुठभेड़ में दो आंतकियों को मार गिराया. इस एनकाउंटर में लश्कर-ए-तैयबा का कश्मीर चीफ अबु दुजाना भी मारा गया है. सेना को दुजाना की काफी लंबे समय से तलाश थी, जो अब जाकर हत्थे चढ़ा और मारा गया. जानकारी के मुताबिक दुजाना पाकिस्तान में बैठे लश्कर के सरगना के आदेश पर कश्मीर में हमले करता था. पाकिस्तान में लश्कर को चला रहे सरगना सैफुल्ला साजिद जट के इशारे पर ही अबु दुजाना कश्मीर में आतंकी वारदातों को अंजाम देता रहा है. साजिद जट आतंकी सरगना हाफिज सईद का करीबी है. जिसके निर्देश का पालन दुजाना भारत में करता रहा है. भारतीय खुफिया एजेंसियों ने पिछले साल काॉल इंटरसेप्ट किया था, जिसमें साजिद जट और दुजाना सुरक्षाबलों से एके 47 छीनने की योजना बना रहे थे. इससे ये बात साबित होती है कि दुजाना का साजिद जट से गहरा रिश्ता रहा है और उसी के निर्देश पर वह काम करता था. भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को पिछले साल पाकिस्तान में लश्कर को चला रहे आतंकियों और दुजाना के बीच हुई बातचीत के आईपी एड्रेस मिले थे. दुजाना और साजिद जट की सवा घंटे की एक बातचीत और दूसरी पैंतालिस मिनट की बातचीत के सबूत खुफिया एजेंसियों के पास हैं. पाक हैंडलर से आतंकी दुजाना की बातचीत में खुलासा हुआ कि दस आतंकियों के ग्रुप में सिर्फ चार लोगों के पास हथियार है. हथियार लूटने पर पाकिस्तानी आका ने इनाम घोषित किया था, जिसमें क्लानिश्कोफ राइफल की लूट पर 1 लाख का इनाम था. गौरतलब है कि आतंकी अबु कासिम के मारे जाने के बाद अबु दुजाना को लश्कर की कमान भारत में मिली थी, इसीलिए उस पर दस लाख का इनाम घोषित था. लश्कर कमांडर अबू कासिम के मारे जाने के बाद कश्मीर में लश्कर के सभी ऑपरेशनों को अंजाम देने की बागडोर इस सेकेंड इन कमांड रहे दुजाना को मिल गई थी. उसके बाद से अबू दुजाना लगातार कई आतंकी हमलों में शामिल रहा.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3