इसरो रचेगा इतिहास, पहली बार लॉन्च करेगा स्वदेशी स्पेस शटल

तिरुवनंतपुरम भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अपने पंखों को एक नया फैलाव देते हुए अपने अब तक के सफर में पहली बार एक ऐसी अंतरिक्षीय उड़ान भरने जा रहा है, जो इतिहास के पन्नों में दर्ज होगी। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी स्पेस शटल के स्वदेशी स्वरूप के पहले प्रक्षेपण के लिए तैयारी है। यह पूरी तरह से 'मेड-इन-इंडिया' प्रयास है। रविवार को एक एसयूवी वाहन के वजन और आकार वाले एक द्रुतग्रामी यान को श्रीहरिकोटा में अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके बाद प्रक्षेपण से पहले की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। हां, बड़े देश एक द्रुतगामी और पुन: इस्तेमाल किए जा सकने वाले प्रक्षेपण यान के विचार को खारिज कर चुके हैं, लेकिन भारत के मितव्ययी इंजीनियरों का मानना है कि उपग्रहों को कक्षा में प्रक्षेपित करने की लागत को कम करने का उपाय यही है कि रॉकेट का पुनर्चक्रण किया जाए और इसे दोबारा इस्तेमाल के लायक बनाया जाए। इसरो के वैज्ञानिकों का मानना है कि यदि पुनर्चक्रण प्रौद्योगिकी सफल होती है तो वे अंतरिक्षीय प्रक्षेपण की लागत को 10 गुना कम करके 2,000 डॉलर प्रति किलो पर ला सकते हैं सब ठीक चलने पर भारत में मानसून आने से पहले ही आंध्रप्रदेश में बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित भारतीय अंतरिक्ष केंद्र श्रीहरिकोटा से स्वदेश निर्मित रीयूजेबल लॉन्च व्हीकल- टेक्नोलॉजी डेमोनस्ट्रेटर (पुन: प्रयोग योग्य प्रक्षेपण यान- प्रौद्योगिकी प्रदर्शक) यानी आरएलवी-टीडी का प्रक्षेपण हो सकता है।  यह पहला मौका होगा, जब इसरो डेल्टा पंखों से लैस अंतरिक्ष यान को प्रक्षेपित करेगा। प्रक्षेपण के बाद यह बंगाल की खाड़ी में लौट आएगा।

गोहत्या मामला: कश्मीर से कन्याकुमारी तक कांग्रेस का असली चेहरा देश के सामने- बीजेपी

यूथ कांग्रेस के 16 मेंबर्स के खिलाफ केस दर्ज, कांग्रेस ने दो को किया सस्पेंड केरल: केरल के कन्नूर में यूथ कांग्रेस के प्रदर्शन के दौरान बछड़ा काटने का वीडियो सामने आने के बाद विवाद बढ़ गया है. जगह-जगह पर प्रदर्शन हो रहा है. कांग्रेस ने इस मामले से पल्ला झाड़ते हुए बछड़ा काटनेवाले यूथ कांग्रेस के 3 कार्यकर्ताओं को सस्पेंड कर दिया है. बीजेपी कार्यकर्ताओं की शिकायत पर यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. बूचड़खानों में जानवरों को मारने के लिए बिक्री पर केंद्र के रोक के विरोध में यूथ कांग्रेस के प्रदर्शन के दौरान कथित तौर पर बछड़ा काटा गया था. कांग्रेस के नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि बछड़ा काटनेवाले कार्यकर्ता पार्टी से सस्पेंड कर दिए गए हैं. ऐसे लोगों के लिए कांग्रेस में जगह नहीं. इस घटना पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि केरल में कल जो हुआ वह सोच से परे, निर्मम और मेरे और कांग्रेस पार्टी के लिए पूरी तरह से अस्वीकार्य है. मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं. केरल भाजपा के अध्यक्ष के राजशेखरन ने इस रक्तरंजित घटना का वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया और कहा कि यह 'क्रूरता का चरम' है. उन्होंने कहा कि कोई भी सामान्य व्यक्ति इस तरह का आचरण नहीं कर सकता. माकपा के सांसद एमबी राजेश ने कहा कि विरोध के अतिरेक तरीके से बचा जाना चाहिए था और इससे संघ परिवार को मदद ही मिलेगी. उन्होंने रायबरेली से सांसद पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछा है कि खुलेआम गोवध करने वाले कांग्रेसियों पर पार्टी कार्यवाही कब करेगी? क्या उनकी चुप्पी को मूक सहमति माना जाये? बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि केरल में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए की सरकार है. कांग्रेस ने खाली गोवध नहीं किया बल्कि 100 करोड़ बहुसंख्यक की अस्था से और देश के कानून के साथ खिलवाड़ किया है. मनीष शुक्ल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दो परिवारों के बीच हुए विवाद को विरोधी दल राजनीतिक रोटियां सेंकने में जुट गए. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी वहां भी पहुंच गए. इससे पहले देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने वालों के साथ राहुल गांधी के खड़े होने से कांग्रेस का चेहरा देश के सामने आ चुका है.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3