गोरक्षा के नाम पर एक बार फिर गुंडागर्दी, लात-घूंसों और बेल्ट से की युवक की पिटाई

उज्जैन,मध्य प्रदेश के उज्जैन में कथित गोरक्षकों ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी. युवक पर गाय की पूंछ काटने का आरोप था. युवक की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. अन्य आरोपियों की तलाश जारी है.मारपीट की यह घटना उज्जैन के पीपलीनाका इलाके की है. मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार को कुछ गोरक्षकों ने अपूदा मालवीय नामक युवक को पकड़ लिया. युवक पर गाय की पूंछ काटने का आरोप लगाते हुए उन्होंने अपूदा की बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी. अपूदा को लात-घूंसों और बेल्ट से पीटा गया. कुछ लोग मारपीट का वीडियो बना रहे थे. किसी तरह वह गोरक्षकों के चंगुल से बच निकला. अपूदा की शिकायत पर पुलिस ने चेतन और विकास नामक दो आरोपियों को अरेस्ट कर लिया. बाकी आरोपियों की तलाश जारी है.जिवाजीगंज पुलिस स्टेशन के इंचार्ज ओपी मिश्रा ने बताया कि प्राथमिक जांच में मामला गो तस्करी की नहीं जान पड़ता है. जांच में पता चला है कि यह पैसों के लेनदेन का मामला है. इस केस में तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई, जिसमें दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक नामजद और अन्य अज्ञात आरोपियों की तलाश जारी है.

नहीं थम रहा किसानों के खुदकुशी का सिलसिला, अब तक 50 की मौत

मध्य प्रदेश में किसानों की आत्महत्या का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब सीहोर में कर्ज में डूबे एक 50 साल के किसान फांसी लगाकर खुद को खत्म कर दिया है। कर्ज के बोझ में डूब किसान लगातार ये भयानक कदम उठा रहे हैं। इससे पहले छतरपुर जिले के एक किसान और टीकमगढ़ के किसान ने ये कदम उठाया। दरअसल, प्रदेश में बीते एक महीने में लगभग दो दर्जन से ज्यादा किसानों ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या की है और इस साल ये आकंड़ा 20 तक पहुंचने वाला है। गौरतलब है कि प्रदेश में कुछ दिनों पहले किसान कर्ज माफी को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन के दौरान मंदसौर में हुई पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत हो गई थी। जिसके बाद आंदोलन उग्र हो गया था। आंदोलन की आंच जल्द ही प्रदेश के अन्य जिलों में भी फैल गई थी। किसानों के हिंसक हुए प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में शांति के लिए उपवास भी रखा था। वहीं प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए मंदसौर के कलेकटर स्वतंत्र सिंह और एपसी ओपी त्रिपाठी को सस्पेंड कर दिया है। विपक्षी दल कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि किसान आंदोलन के बाद प्रदेश में अब तक 50 किसान खुदकुशी कर चुके हैं। गौरतलब है कि किसान आंदोलन के दौरान 6 जून को भड़की हिंसा के चलते पुलिस की गोली से 5 किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद 6 व 7 जून को आक्रोशित भीड़ ने राजमार्ग पर लगभग 30 ट्रकों को आग लगा दी थी।

More Articles...

  1. जहरीली कॉफी के साथ सेल्फी और फिर खत्म हो गई जिंदगी
  2. तीन तलाकः सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर 'मंथन' करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, भोपाल में शुरू हुई बैठक
  3. निरमोही अखाड़ा के साधुओं ने आसाराम को बताया कलंक, आश्रम पर बोला धावा
  4. मंदसौर से पहले ही हिरासत में राहुल, किसानों से मिलने बाइक से जा रहे थे
  5. कांग्रेस ने शिवराज सरकार पर साधा निशाना, कहा मध्य प्रदेश में हुआ 10 हजार करोड़ का घोटाला
  6. छेड़छाड़ की शिकायत पर जिम में लड़के ने लड़की को मारे थप्पड़ और लात
  7. उज्जैन में भारी बारिश का कहर
  8. जेएनयू में भारतविरोधी नारे पर भड़के अनुपम खेर
  9. किसान आंदोलन: कांग्रेस का आज एमपी बंद का एलान, राहुल मंदसौर जाएंगे
  10. पेंशनरों का मामला अटका, नियमित कर्मचारियों को मिलेगा सातवां वेतनमान

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3