जहरीली कॉफी के साथ सेल्फी और फिर खत्म हो गई जिंदगी

2 सहेलियों ने केक काटकर मौत को सेलिब्रेट किया, फिर जहर पीकर दी जान इंदौर. हले जहर के प्याले के साथ सेल्फी ली। फिर एक साथ जहर पीकर दोनों सहेलियों ने आत्महत्या कर ली। यह सनसनीखेज घटना मंगलवार को विजय नगर थाना क्षेत्र के गुरु नगर में सामने आई है। इनके पास से सुसाइड नोट भी मिले हैं, जिनमें दोनों ने जिंदगी से परेशान होने की बात लिखी है। विजय नगर टीआई एसके दास के अनुसार, दोनों सहेलियां दो मंजिला मकान की पहली मंजिल पर एक फ्लैट में रहती थीं। इनकी पहचान रचना चौधरी (27) और तन्वी वास्कले (25) के रूप में हुई। रचना धार की और तन्वी बड़वानी जिले के गोमिया बलखड़ गांव की रहने वाली थी। इनके पास से मिले सुसाइड नोट में 27 अगस्त की तारीख है। इसे देखते हुए पुलिस का मानना है कि 27 की देर रात या 28 की सुबह इन्होंने आत्मघाती कदम उठाया। पुलिस ने उनके फ्लैट से प्याले, प्लेट, डायरी, सुसाइड नोट, कुछ बोतलें व उनके मोबाइल को भी जब्त किया है। उन्होंने वॉट्सएप के मैसेज, आने-जाने वाले कॉल की लिस्ट सहित अन्य जानकारियां डिलीट कर दी थी। हालांकि फोटो जरूर मिले हैं जो दोनों ने आत्महत्या से पहले लिए थे। दोनों ने जाम की तरह जहर के प्याले टकराते हुए फोटो लिए। एक-दो फोटो में उनके आंसू भी दिखाई दे रहे हैं। रचना फाइनेंस कंपनी के कॉल सेंटर में काम करती थीं तो तन्वी कैटरिंग का काम करती थी। रचना के साथी कर्मचारी भूपेंद्र ने बताया कि दो दिन से रचना फोन नहीं उठा रही थी। हमें लगा कि उसकी तबीयत खराब है। हम उसके घर पहुंचे तो दरवाजा अंदर से बंद था। आसपास वालों ने बताया कि रविवार से उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। मामला गड़बड़ देख मकान मालिक को फोन किया। मकान मालिक का बेटा पहुंचा। उसके बाद आत्महत्या का पता चला। कर्मचारियों ने बताया कि रचना के जीवन में परेशानियां तो थीं, लेकिन वह सामान्य थी। आठ-दस दिन से तो वह खुश थी। उसकी बातों से कभी ऐसा नहीं लगा कि वह इस तरह का कदम उठा लेगी। फेसबुक पर उसके जितने भी अपडेट रहते थे। वह दुख व मायूसी भरे रहते थे। पुलिस के मुताबिक, रचना शादीशुदा थी। उसका छह साल का युग नाम का एक बेटा भी है, जो धार में नाना-नानी के यहां रहता है। उसका देवास में रहने वाले पति से तलाक को लेकर केस चल रहा था। दोनों चार साल से अलग हैं। उसके पास से दो पेज का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है- मैं जिंदगी से परेशान हो चुकी हूं। मैं खुद अपनी आत्महत्या की जिम्मेदार हूं। पति (अशोक) से नफरत करती हूं। मैं मरकर भी नहीं मर सकती। मेरी लाश को उसे हाथ भी मत लगाने देना। मेरा अंतिम संस्कार सुहागिन की तरह मत करना। युग को माता-पिता की परवरिश की जरूरत है। इसलिए हम उसकी परवरिश ठीक से नहीं कर पाते। आप लोग (नाना-नानी) उसका ध्यान रखना और माता-पिता की तरह उसकी परवरिश करना। वहीं तन्वी ने एक पेज के सुसाइड नोट में बहनों के लिए लिखा है- मैं जिंदगी से थक चुकी हूं। आत्महत्या की मैं खुद जिम्मेदार हूं। किसी को परेशान ना किया जाए। आप लोग अपना ध्यान रखना।

छेड़छाड़ की शिकायत पर जिम में लड़के ने लड़की को मारे थप्पड़ और लात

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक लड़के ने जिम में मौजूद लड़की पर सबके सामने थप्पड़ और लात बरसाई. ये पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. मामले में पीड़ित लड़की ने आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने जिम से घटना का सीसीटीवी फुटेज बरामद कर आरोपी लड़के की तलाश शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक, जिम में आरोपी वहां मौजूद लड़की के साथ छेड़छाड़ कर रहा था. इससे परेशान होकर उसने लड़के की शिकायत जिम संचालक से कर दी. इससे आरोपी नाराज हो गया और जब लड़की उसके पास से गुजरी तो उसने उसे जोरदार थप्पड़ मार दिया. वो इतने पर ही नहीं रुका और उसने पूरे दम के साथ लड़की को लात भी मारी. अपने ऊपर हुए इस हमले के बाद घबराई लड़की जमीन पर बैठ गई. वहीं जिम में मौजूद अन्य लोग उसकी मदद को आगे आए. अपने खिलाफ माहौल बनता देख आरोपी मौके से भाग निकला. पीड़िता ने घर पहुंचकर परिवार को घटना की जानकारी दी. इसके बाद उसने थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई, जिसके बाद से उसकी तलाश जारी है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी लड़के का नाम पुनीत है.इस मामले में जिम संचालक ने पुलिस को बताया की लड़का-लड़की दोनों पुराने परिचित हैं. इनके साथ कॉलेज के ही 5 अन्य दोस्त साथ में वर्कआउट करने आते हैं. पीड़िता और आरोपी लड़के पुनीत का किसी बात को लेकर जिम के बाहर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद से वो उसे परेशान कर रहा था. जब इसकी शिकायत लड़की ने की तो भड़के हुए पुनीत ने उसे थप्पड़ और लात मार दी.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3