गोरक्षा के नाम पर एक बार फिर गुंडागर्दी, लात-घूंसों और बेल्ट से की युवक की पिटाई

उज्जैन,मध्य प्रदेश के उज्जैन में कथित गोरक्षकों ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी. युवक पर गाय की पूंछ काटने का आरोप था. युवक की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. अन्य आरोपियों की तलाश जारी है.मारपीट की यह घटना उज्जैन के पीपलीनाका इलाके की है. मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार को कुछ गोरक्षकों ने अपूदा मालवीय नामक युवक को पकड़ लिया. युवक पर गाय की पूंछ काटने का आरोप लगाते हुए उन्होंने अपूदा की बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी. अपूदा को लात-घूंसों और बेल्ट से पीटा गया. कुछ लोग मारपीट का वीडियो बना रहे थे. किसी तरह वह गोरक्षकों के चंगुल से बच निकला. अपूदा की शिकायत पर पुलिस ने चेतन और विकास नामक दो आरोपियों को अरेस्ट कर लिया. बाकी आरोपियों की तलाश जारी है.जिवाजीगंज पुलिस स्टेशन के इंचार्ज ओपी मिश्रा ने बताया कि प्राथमिक जांच में मामला गो तस्करी की नहीं जान पड़ता है. जांच में पता चला है कि यह पैसों के लेनदेन का मामला है. इस केस में तीन नामजद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई, जिसमें दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक नामजद और अन्य अज्ञात आरोपियों की तलाश जारी है.

निरमोही अखाड़ा के साधुओं ने आसाराम को बताया कलंक, आश्रम पर बोला धावा

उज्जैन नाबालिग से बलात्कार के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू को कलंक बताते हुए उनके आश्रम पर बुधवार को निरमोही अखाड़ा से जुड़े साधुओं ने धावा बोला दिया। मध्यप्रदेश के उज्जैन में स्थित उनके आश्रम में घुसकर तोड़-फोड़ भी की गई। शुक्रवार से शुरू होने वाले सिंहस्थ कुंभ मेले के लिए वह आश्रम निरमोही अखाड़ा से जुड़े साधुओं को प्रशासन की ओर से रहने के लिए दिया गया था। उसके बाद दोपहर में साधु आश्रम में पहुंच गए और वहां आसाराम से जुड़ी हर चीज को तोड़ा-फोड़ा गया। आश्रम में लगी उनकी तस्वीरों और हॉर्डिंग्स को फाड़ दिया गया मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तोड़-फोड़ के बाद आश्रम को गंगा जल से पवित्र भी किया गया। बताया जा रहा है कि आसाराम समर्थकों को आश्रम खाली करने के लिए बोला गया था, लेकिन उन्होंने समय पर खाली नहीं किया था। जिसके बाद साधुओं ने आश्रम में तोड़-फोड़ की।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3