अंडमान की बारिश में फंसे हावड़ा के नौ लोग

हावड़ा, अंडमान व निकोबार में हो रही भारी बारिश के कारण वहां बंगाल के लगभग 800 पर्यटक फंसे हुए हैं, इनमें हावड़ा के भी तीन परिवार के नौ लोग शामिल हैं. अंडमान व निकोबार द्वीप समूह में स्थिति इतनी गंभीर है कि पर्यटकों के जीवन पर संकट सा छा गया है़ ऐसे में हावड़ा के शिवपुर के रहनेवाले इस परिवार के अन्य परिजनों की स्थिति काफी खराब है. हावड़ा के शिवपुर में रहनेवाले मिहिर जाना, सुलता जाना, अनिका जाना, देवब्रत जाना, सुमित्रा जाना, कौशिक गोंड, रूमा गोंड, अलोलिका गोंड व सोमेश्वर गोंड घूमने के लिए अंडमान गये हुए थे. मंगलवार को यह परिवार अंडमान निकोबार गया था और उसी दिन, वहां मौसम बहुत खराब हो गया. प्राप्त जानकारी के अनुसार नौ दिसंबर तक मौसम में परिवर्तन के आसार नहीं दिखाई दे रही है, इनके परिजन चिंतित है और सरकार की ओर आस लगा कर बैठे हैं. बारिश के कारण सभी फ्लाईट के कैंसिल होने से परिस्थिति और भी गंभीर हो गई है़. जानकारी मिली है कि पर्यटकों के लिये खाना, पानी और रहने की समस्या से और अधिक परेशानी का सामना करना पर रहा है़ शिवपुर के रहने वाले नौ लोग मंगलवार को अंडमान घूमने गये थे़, मौसम खराब होने से फोन पर कभी-कभी परिवार वालो से बात हो रही है़. प्राप्त जानकारी के अनुसार नौ दिसंबर तक मौसम में परिवर्तन के आसार नहीं दिखाइ दे रही है़ इनके परिजन चिंतित है और सरकार की ओर आस लगा कर बैठे हैं. बारिश के कारण सभी फ्लाईट के कैंसिल होने से परिस्थिती और भी गंभीर हो गई है़. गौरतलब है कि अंडमान-निकोबार के हैवलॉक द्वीप पर भारी बारिश और तूफान की वजह से फंसे 1400 पर्यटक फंस गए थे. भारतीय नौसेना इन सभी को बचाने के लिए अभियान चलाया है, नौसेना ने इन पर्यटकों को बचाने के लिए अपने तीन जहाज रवाना किए हैं.

पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में गाय ले जाते दो लोगों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या की

पीएम की अपील बेअसर, फिर भीड़ का दिखा खूनी खेल जलपाईगुड़ी, पश्चिम बंगाल पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में पशु तस्करी के शक में भीड़ ने दो युवकों को पीट-पीट कर मार डाला। जानकारी के मुताबिक दो पिक-अप वाहन में भरकर तीन व्यक्ति पशुओं को कहीं ले जा रहे थे, तभी धूपगढ़ी के नजदीक झारसालबोनी गांव के लोगों ने उन्हें रोक लिया। तीसरा व्यक्ति तो जैसे-तैसे अपनी जान बचाकर भाग निकला।पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले में पशु तस्करी करने के संदेह में भीड़ ने पीट-पीट कर दो व्यक्तियों की हत्या कर दी. वहीं उनके एक साथी को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने इस बात की जानकारी दी. तीनों व्यक्ति दो पिक-अप वाहन में भरकर पशुओं को कहीं ले जा रहे थे. धूपगढ़ी के नजदीक झारसालबोनी गांव के लोगों ने उन्हें रोक लिया और उनको पीटना शुरु कर दिया. इसमें दो लोगों की मौत हो गई और उनमें से एक व्यक्ति फरार होने में कामयाब रहा. धूपगढ़ी पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया, "पशु तस्करी के संदेह में गांव वालों ने हफीजुल शेख और अनवर हुसैन की पीट-पीट कर हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि भीड ने तड़के उनके वाहन का पीछा किया और उन्हें खींचकर बाहर निकाला. इसके साथ ही भीड़ ने वाहन को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया. उन्होंने कहा कि हम जांच कर रहे हैं कि पीड़ित पशुओं का वैधानिक तरीके से व्यापार करने वाले थे या पशु तस्कर थे." अधिकारी ने बताया, "दोनों पीड़ितों को अस्पताल ले जाया गया, जहां पहुंचते ही उन्हें मृत घोषित कर दिया गया ." साथ ही उन्होंने बताया कि तीसरे आरोपी को बाद में गिरफ्तार कर लिया गया. जब अधिकारी से पूछा गया कि क्या स्थानीय निवासियों ने गुस्से में आकर उनकी हत्या कर दी या फिर यह तथाकथित गो-रक्षक दल का काम था, उन्होंने कहा, "जांच अभी चल रही है."

More Articles...

  1. आधार नहीं अब राशन कार्ड, लाइसेंस और पासपोर्ट से वेरिफाई होंगे मोबाइल नंबर
  2. बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने की गृहमंत्री से फोन पर बात
  3. तृणमूल कांग्रेस ने मुकुल रॉय को 6 साल के लिए पार्टी से किया सस्पेंड
  4. कैपिटल एक्सप्रेस पटरी से उतरे दो डिब्बे पटरी से उतरे, 2 लोगों की मौत और 6 घायल
  5. मूर्ति विसर्जन विवाद पर बोलीं ममता- मैं तब भी यहीं करूंगी, जब मेरे सिर पर बंदूक होगी
  6. ममता के फ्लाइट विवाद पर इंडिगो की सफाई, कहा- कम नहीं था फ्यूल, एयर ट्राफिक की वजह से हुई देरी
  7. भारत, अमेरिका और जापान के नेवल एक्सरसाइज से घबराया चीन
  8. जहरीली शराब पीने से बंगाल में 6 की मौत
  9. सुप्रीम कोर्ट में 'ऊंची जाति' वाले जजों की चलती है : कोलकाता हाईकोर्ट जज ने लगाया आरोप
  10. बंगाल की तरफ जो आंख उठाएगा, आंख निकाल ली जाएगी :अभिषेक

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3