दर्दनाक हादसा, एमपी की कार टैंकर से भिड़ी, पांच की मौत

जोधपुर: राजस्थान में जोधपुर जिले के बालेसर में टैंकर और कार की टक्कर में एक ही परिवार के 5 लागों की मौत हो गई। मृतकों में 2 बच्चे भी शामिल हैं। जानकारी के अनुसार कृष्ण गोपाल जोशी अपने परिवार के सदस्यों के साथ रामदेवरा के दर्शन के लिए रवाना हुए थे। कार में जोशी के साथ उनकी पत्नी सोनाली, मां रतनदेवी और बेटा मोहक और बेटी भाव्या सवार थी। सुबह जब इनकी कारण जोधपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर आगोलाई पहुंची तो सामने से आ रहे एक टैंकर ने जोरदार टक्कर मार दी। टैंकर की टक्कर से कार का बैलेंस बिगड़ा और कार टैंक्कर के नीचे जा घुसी।टैंकर में घुसते ही छत सहित कार की पूरी बॉडी बिखर गई। कार में मौजूद सभी लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार मलबे में तब्दील हो गईऔर लोगों की बॉडी उसमें चिपक गई थी। इस कारण पांचों शवों को पहचान पाना मुश्किल हो रहा था। पहुंची पुलिस ने लोगों की मदद से फंसे शवों को बाहर निकला। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टक्कर के बाद टैंकर कार को पचास फीट तक घसीटता ले गया और कार पर ही पटल गया। टैंकर के पटलते ही सभी लोग इसके नीचे दब गए और उनकी मौत हो गई। एकरिश्तेदार ने बताया कि वह परिवार प्रति वर्ष रामदेवरा में दर्शन करने के लिए जाता था।

हिरण शिकार केस में कोर्ट में बोले सलमान- पब्लिसिटी के लिए मुझे फंसाया

सलमान खान, सैफ अली खान, नीलम कोठारी, सोनाली बेंद्रे, तबु अपने बयान दर्ज करवाने पहुंचे जोधपुर कोर्ट जोधपुर: काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान आज जोधपुर की सीजेएम (Chief Judicial Magistrate) कोर्ट में पेश हुए. उन्होंने अपनी गवाही में खुद को बेकसूर बताया और कहा कि मुझे झूठा फंसाया गया है.सलमान ने कहा कि झूठे गवाह वन विभाग ने तैयार करवाए. वन विभाग ने यह सब पब्लिसिटी के लिए किया है. सुरक्षा कारणों की वजह से उस रात वह होटल से बाहर ही नहीं निकले थे. सलमान ने कोर्ट में 65 सवालों के जवाब दिए. कोर्ट ने सलमान से सवाल किया कि शिकार वाली रात जीप कौन चला रहा था. सलमान के अलावा सैफ अली खान, नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे भी जोधपुर कोर्ट में पेश हुए. इन सभी पर 1998 में काले हिरण के शिकार का आरोप है. घटना उस समय की है जब जोधपुर में ये लोग फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग कर रहे थे. अभी कुछ दिन पहले 18 जनवरी को जोधपुर की सीजेएम कोर्ट ने सलमान को आर्म्स ऐक्ट केस में बरी कर दिया था जहां सलमान पर अवैध रूप से हथियार रखने और उससे शिकार करने का आरोप लगा था. सलमान को इस केस में संदेह का लाभ देते हुए कोर्ट ने बरी किया था. गौरतलब है कि सलमान खान पर आरोप था कि फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग के दौरान 1998 में उन्होंने चिंकारा और काले हिरण का शिकार किया था. साथ ही सलमान पर ये भी आरोप लगा कि उन्होंने ऐसे हथियार रखे, जिनके लाइसेंस की मियाद निकल चुकी थी. 1998 में सलमान पर हिरण शिकार के तीन मामलों समेत कुल चार मामले दर्ज किए गए थे. इनमें से हिरण शिकार के दो मामलों में सलमान को निचली अदालतों से सजा सुनाई गई थी. उस समय सलमान को जेल यात्रा करनी पड़ी थी. बाद में हाईकोर्ट ने सलमान को दोनों मामलों में बरी कर दिया था.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3