तमिलनाडु विधायकों की चांदी, सैलरी में 100 फीसदी की बढ़ोतरी

चेन्नई तमिलनाडु सरकार के एक फैसले ने सभी विधायकों की मांग को पूरा कर दिया है. तमिलनाडु के सभी विधायकों की सैलरी में 100 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है. अब एक विधायक की सैलरी 55,000 से बढ़कर सीधा 1.5 लाख हो गई है. वहीं सैलरी के अलावा विधायकों के भत्ते में भी बढ़ोतरी की गई है. विधायकों का भत्ता अब 2 करोड़ से बढ़कर 6 करोड़ हो गया है. मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने विधानसभा में इसका ऐलान किया. इस फैसले के बाद विपक्षी दल डीएमके ने किसी भी तरह की टिप्पणी करने से मना कर दिया है. पिछले काफी लंबे समय से चल रहा सांसदों की तन्ख्वाह बढ़ोतरी का मुद्दा एक बार फिर सदन में उठा. समाजवादी पार्टी नेता नरेश अग्रवाल और कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने बुधवार को राज्यसभा में उठाया. नरेश अग्रवाल ने कहा कि सांसदों की सैलरी बढ़नी चाहिए, हमारी सैलरी हमारे सेकेट्ररी से भी कम है. आपको बता दें कि पिछले काफी समय से इसकी मांग की जा रही है.गौरतलब है कि पिछले साल ही संसद के करीब 800 सांसदों की सैलरी दोगुनी करने की मांग की गई थी. सांसदों को अभी 50,000 रुपये तक की सैलरी और इसके अलावा अन्य सभी सुविधाएं मिलती है. हालांकि कई सांसदों ने इसका विरोध भी किया था.

शशिकला ने भतीजे दिनाकरन को पार्टी का उपमहासचिव नियुक्त किया

Shashikala nephew Dinakaran party appointed Upmahasciv तिरनेलवेली (तमिलनाडु) : वरिष्ठ अन्नाद्रमुक नेता वी करप्पासामी पांडियन ने पार्टी महासचिव वीके शशिकला द्वारा टीटीवी दिनाकरन को उप महासचिव बनाये जाने के विरोध में आज पार्टी के संगठन सचिव पद से इस्तीफा दे दिया. दक्षिणी क्षेत्र में पार्टी के प्रभावी नेता माने जाने वाले पांडियन पिछले साल ही द्रमुक से अन्नाद्रमुक में लौटे थे. उन्होंने पार्टी के संगठन सचिव पद से इस्तीफे की घोषणा करते हुए सवाल उठाया कि क्या अन्नाद्रमुक शशिकला की पारिवारिक संपत्ति है. पांडियन ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि शशिकला को किसने उन नेताओं को फिर से शामिल करने का अधिकार दिया जिन्हें दिवंगत जयललिता ने निकाल दिया था. उन्होंने सवाल उठाया कि क्या पार्टी की महापरिषद या कार्यकारिणी ने शशिकला को इस संबंध में अधिकृत किया था. उन्होंने कहा, ‘‘अम्मा द्वारा निकाले गये लोगों को फिर से शामिल करने का अधिकार उन्हें किसने दिया. एमजीआर ने गरीबों के कल्याण के लिए अन्नाद्रमुक का गठन किया था. क्या यह उनकी पारिवारिक संपत्ति है.'' उच्चतम न्यायालय ने शशिकला और तीन अन्य लोगों को आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराये जाने के एक निचली अदालत के आदेश पर कल मुहर लगा दी थी. दोषी ठहराये जाने के एक दिन बाद शशिकला ने आज ऐलान किया कि उनके भतीजे और पूर्व राज्यसभा सदस्य दिनाकरन को पार्टी का उप महासचिव नियुक्त किया जा रहा है. जयललिता ने 2011 में दिनाकरन को शशिकला और उनके तीन रिश्तेदारों के साथ निकाल दिया था. जयललिता ने बाद में शशिकला के माफी मांगने के बाद इस अनुशासनात्मक कार्रवाई को वापस ले लिया था.

More Articles...

  1. पलानीस्वामी आज लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ, 15 दिनों में साबित करेंगे बहुमत
  2. पार्लर चलाने वाली शशिकला कैसे बन गईं जयललिता की खास दोस्त
  3. शशिकला के सामने मजबूत हो रहे पन्नीरसेल्वम, आज 3 सांसद और आए साथ
  4. तमिलनाडु पर केंद्र को कोई रिपोर्ट नहीं भेजी: तमिलनाडु के राज्यपाल
  5. शशिकला ने 131 विधायकों को अज्ञात जगह भेजा
  6. शशिकला बन सकती हैं तमिलनाडु की सीएम, जयललिता की भतीजी ने कहा- यह सेना के तख्तापलट जैसा
  7. शशिकला बनेंगी तमिलनाडु की मुख्यमंत्री, 8 या 9 फरवरी को ले सकती हैं शपथ !
  8. धोनी के कप्तानी छोड़ने के फैसले पर अश्विन ने दिया यह बयान
  9. बीएसएनएल का छप्पर फाड़ ऑफर: 144 रुपए से अनलिमिटेड लोकल और एसटीडी कॉलिंग
  10. शशिकला बनी एआईएडीएमके की महासचिव, पार्टी ने प्रस्ताव पास किया

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3