शशिकला ने भतीजे दिनाकरन को पार्टी का उपमहासचिव नियुक्त किया

Shashikala nephew Dinakaran party appointed Upmahasciv तिरनेलवेली (तमिलनाडु) : वरिष्ठ अन्नाद्रमुक नेता वी करप्पासामी पांडियन ने पार्टी महासचिव वीके शशिकला द्वारा टीटीवी दिनाकरन को उप महासचिव बनाये जाने के विरोध में आज पार्टी के संगठन सचिव पद से इस्तीफा दे दिया. दक्षिणी क्षेत्र में पार्टी के प्रभावी नेता माने जाने वाले पांडियन पिछले साल ही द्रमुक से अन्नाद्रमुक में लौटे थे. उन्होंने पार्टी के संगठन सचिव पद से इस्तीफे की घोषणा करते हुए सवाल उठाया कि क्या अन्नाद्रमुक शशिकला की पारिवारिक संपत्ति है. पांडियन ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि शशिकला को किसने उन नेताओं को फिर से शामिल करने का अधिकार दिया जिन्हें दिवंगत जयललिता ने निकाल दिया था. उन्होंने सवाल उठाया कि क्या पार्टी की महापरिषद या कार्यकारिणी ने शशिकला को इस संबंध में अधिकृत किया था. उन्होंने कहा, ‘‘अम्मा द्वारा निकाले गये लोगों को फिर से शामिल करने का अधिकार उन्हें किसने दिया. एमजीआर ने गरीबों के कल्याण के लिए अन्नाद्रमुक का गठन किया था. क्या यह उनकी पारिवारिक संपत्ति है.'' उच्चतम न्यायालय ने शशिकला और तीन अन्य लोगों को आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराये जाने के एक निचली अदालत के आदेश पर कल मुहर लगा दी थी. दोषी ठहराये जाने के एक दिन बाद शशिकला ने आज ऐलान किया कि उनके भतीजे और पूर्व राज्यसभा सदस्य दिनाकरन को पार्टी का उप महासचिव नियुक्त किया जा रहा है. जयललिता ने 2011 में दिनाकरन को शशिकला और उनके तीन रिश्तेदारों के साथ निकाल दिया था. जयललिता ने बाद में शशिकला के माफी मांगने के बाद इस अनुशासनात्मक कार्रवाई को वापस ले लिया था.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3