भाजपा के राष्ट्रीय सचिव ने टीपू सुल्तान को बताया देशद्रोही

डिंडिगुल/तमिलनाडु। शनिवार को गणेश प्रतिमा जुलूस का शुभारंभ करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने कहा कि, "टीपू सुल्तान के लिए डिंडिगुल में मणि मंडपम (स्मारक) का निर्माण नहीं होना चाहिए क्योंकि वह एक देशद्रोही था। यदि तमिलनाडु सरकार ने ऐसा नहीं किया तो हजारों लोग डिंडिगुल-मदुरै मुख्य मार्ग को विरोध में जाम कर देंगे।" उन्होंने टीपू सुल्तान को देशद्रोही करार देते हुए तमिलनाडु सरकार से शहर में स्मारक बनवाने की योजना त्यागने की मांग की। इसके बाद जब संवाददाताओं ने उनसे रजनीकांत के एक फिल्म में बादशाह टीपू सुल्तान का अभिनय करने की बात का जिक्र किया तो उन्होंने कि हमें उम्मीद है कि अभिनेता इस पेशकश को स्वीकार नहीं करेंगे। इस बयान पर अभी तक विपरीत पार्टी की ओर से कोई बयान नहीं आया है।

शशिकला के सामने मजबूत हो रहे पन्नीरसेल्वम, आज 3 सांसद और आए साथ

चेन्नई, तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी AIADMK में उठा सत्ता का संघर्ष अभी खत्म होता नहीं दिख रहा है. शशिकला गुट और पन्नीरसेल्वम गुट दोनों ही सरकार बनाने के लिए अपना-अपना पक्ष मजबूत करने में लगे हुए हैं. पन्नीरसेल्वम को तब और ताकत मिल गई जब वी के शशिकला का साथ छोड़कर अन्नाद्रमुक के एक विधायक और चार सांसद उनके साथ आ गए. वहीं शशिकला ने उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण कराने में हो रही देरी को लेकर राज्यपाल विद्यासागर राव पर निशाना साधा. रविवार को भी तीन और सांसदों ने अपने समर्थन पन्नीरसेल्वम को दिया. अन्नाद्रमुक के पूर्व सांसद और कलाकार रामाराजन भी पन्नीरसेल्वम से मिले और कहा कि ये ही हमारे नेता हैं. ये एमजी रामचंद्रन के मार्ग का अनुसरण कर रहे हैं. रविवार को पार्टी सांसद बी. सेंगुत्तुवन, जयसिंह त्यागराज नटर्जी और आरपी मरथुराजा पन्नीरसेल्वम के आवास पहुंचे. पार्टी कार्यकर्ताओं और सांसदों ने पन्नीरसेल्वम के आवास पर उनका सम्मानित किया वहीं शशिकला समर्थकों ने पन्नीरसेल्वम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. शशिकला के लिए मुश्किलें इतनी ही नहीं हैं. उनके खिलाफ चल रहे आय से अधिक संपत्ति मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला सोमवार को आने की उम्मीद नहीं है. सुप्रीम कोर्ट की कॉज लिस्ट में शशिकला के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति वाला मामला शामिल नहीं है. कॉज लिस्ट में शशिकला का मामला न होने का मतलब है कि सोमवार को उस पर कोई फैसला आने की उम्मीद नहीं है. ऐसे में दूसरी ओर ये भी खबर है कि शशिकला गुट जरूरत पड़ने पर सीएम कैंडिडेट बदलने पर भी विचार कर रहा है. इससे पहले शनिवार को अन्नाद्रमुक की महासचिव शशिकला ने अपने समर्थक विधायकों से रिसॉर्ट में मुलाकात की. उन्होंने रात में कहा कि राज्यपाल द्वारा उन्हें सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने में विलंब ऐसा प्रतीत होता है कि हमारी पार्टी में टूट को सुगम बनाने के लिए है. शशिकला ने शनिवार को राज्यपाल को लिखे पत्र में कहा था कि उन्होंने गुरुवार को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के वास्ते एक विस्तृत प्रस्तुति दी थी क्योंकि मेरे पास पूर्ण बहुमत है. शशिकला ने कहा कि वह लोकतंत्र तथा न्याय में विश्वास करती हैं और फिलहाल संयम बनाए रखेंगी. कुछ वक्त हम संयम रखेंगे. उसके बाद सब मिलकर वही करेंगे, जो करने की जरूरत है. महासचिव ने कहा कि एआईएडीएमके एक लौह किला है और इसे कोई हिला नहीं सकता. उन्होंने कहा कि पार्टी के पास 1.5 करोड़ मतदाता हैं, और जो इसे विभाजित करने का प्रयास करेगा पार्टी उसे नहीं छोड़ेगी. एआईएडीएमके के राज्यसभा सांसद वी. मैत्रेयन ने कहा है कि पार्टी की महासचिव वी के शशिकला ने राज्यपाल को 'धमकी' दी है, जिसके लिए उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए. उन्होंने राष्ट्रपति से अपील की कि राज्यपाल के खिलाफ 'धमकी भरे बयान' के लिए पार्टी महासचिव शशिकला के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

More Articles...

  1. यूपीए और बीजेपी सरकार में कोई अंतर नहीं: प्रकाश करात
  2. तमिलनाडु पर केंद्र को कोई रिपोर्ट नहीं भेजी: तमिलनाडु के राज्यपाल
  3. जयललिता आज पांचवीं बार बनेंगी मुख्यमंत्री
  4. शशिकला ने 131 विधायकों को अज्ञात जगह भेजा
  5. शशिकला बन सकती हैं तमिलनाडु की सीएम, जयललिता की भतीजी ने कहा- यह सेना के तख्तापलट जैसा
  6. शशिकला बनेंगी तमिलनाडु की मुख्यमंत्री, 8 या 9 फरवरी को ले सकती हैं शपथ !
  7. धोनी के कप्तानी छोड़ने के फैसले पर अश्विन ने दिया यह बयान
  8. बीएसएनएल का छप्पर फाड़ ऑफर: 144 रुपए से अनलिमिटेड लोकल और एसटीडी कॉलिंग
  9. शशिकला बनी एआईएडीएमके की महासचिव, पार्टी ने प्रस्ताव पास किया
  10. तमिलनाडु: मुख्य सचिव के घर आईटी रेड, 96 करोड़ की बरामदगी केस में पूछताछ

Subcategories

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3