पोलियों बूथ पर मशीनें लगाकर आधार कार्ड बनाने के निर्देश

 अमरोहा, अ.हि.ब्यूरो। जिलाधिकारी वेद प्रकाश की अध्यक्षता में कलेक्ट्रट सभागार में आज आधार परियोजना के क्रियान्वयन से सम्बंधित जिला अनुश्रवण समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने एजेन्सियों द्वारा आधार कार्ड बनाने में ढिलाई बरतने पर नाराजगी व्यक्त की और तेजी लाने के लिये कड़े दिशा निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सभी एजेंन्सियों को 21 जून से प्रारम्भ होने वाले पोलियों बूथ पर अपनी मशीनें लगाकर आधार कार्ड बनाने के निर्देश दिये हैं। जनपद में लगभग 19 करोड़ 25 लाख जनसंख्या के सापेक्ष अभी तक 1332794 आधार कार्ड ही बन पाये हैं। आधार कार्ड से सभी योजनाओं को लिंक किया जायेगा। इन योजनाओं में मनरेगा, पेंशन योजना, बैंक खाता, छात्रवृत्ति आदि योजनायें शामिल हैं। कार्ड की डिलीवरी ठीक न होने पर जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकारियों को समस्त डाकघरों में उपलब्ध आधार कार्डों का ब्यौरा प्रस्तुत करने के निर्देश दियें। उन्होंने कहा कि सभी आधार कार्ड बनाने वाली एजेन्सियंा आवेदक का फोन नं. अवश्य लिखें जिससे कार्ड डिलीवरी में समस्या न हो। उन्होंने कहा कि आवेदक को रजिस्ट्रेशन स्लिप अवश्य दें । जनपद में विप्रो, एनवीआरएण्ड एसोसिएट लि, सीएमएसप्रा लि, मेघा विन्कॉम प्रालि, जैफ र सिस्टम प्रालि,आशा सिक्योरिटी गार्ड सर्विसेस एवं एलैंकिट फ ाईसेक लि एजेन्सियंा भी आधार कार्ड बनाने का कार्य कर रही हैं। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी एसके मिश्र, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसके निगम, उपजिलाधिकारी सदर मौ. नईम, उपजिलाधिकारी हसनपुर रतिराम, तहसीलदार संजीव कुमार यादव, अर्थ एवं संख्या अधिकारी सुभाष चंद पंवार, प्रबंधक जिला अग्रणी बैंक हसन, कार्यक्रम अधिकारी तरूण वर्मा, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी अब्दुल मजीद खंा, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी गिरवर सिंह, जिला कॉडिनेटर बेसिक शिक्षा मनोज कुमार सहित आधार कार्ड बनाने वाली एजेंसियो के प्रतिनिधि उपस्थित रहेे।

करनपुर माफी में बिजली आपूर्ति चालू कराने को भाकियू ने फिर किया एसडीओ का घेराव

हसनपुर,अ.हि.ब्यूरो। मांगे पूरी न होने पर दो सप्ताह बाद फिर से भाकियू ने बिजली घर पर धरना दिया और एसडीओ का घेराव करते हुए मांगे पूरी करने की मांग की। चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांग शीघ्र ही पूरी न की गई तो वे लोग अनिश्चितकालीन धरने को विवश होंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी बिजली विभाग की होगी। विदित हो कि आजादी के बाद भी क्षेत्र के गांव करनपुर माफी व करनपुरी में आज तक बिजली के दर्शन नहीं हुये हैं। गांव में करीब बीस साल पूर्व विद्युत पोल तो लगा दिये गये मगर आज तक बिजली सप्लाई चालू नहीं की गई जिससे यहां पर रहने वाले ग्रामीण आज भी बिजली से वंचित हैं और तमाम प्रकार की सुविधाओं से दूर हैं। उनके यहां पर ग्रामीण शादी करने से कतराते हैं जिससे यहां पर कुवारों की संख्या भी बहुत अधिक है। इसी को लेकर भाकियू ने 24 मई को बिजली घर पर धरना दिया था और जेई व तहसीलदार को बंधक बनाया था जिस पर एसडीएम ने उन्हें शीघ्र ही बिजली चालू करने का आश्वासन दिया था मगर दो सप्ताह बाद जब मांगे पूरी नहीं हुई तो आज फिर से भाकियू ने बिजली घर पर धरना दिया और एसडीओ का घेराव किया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि नगर से निकलने वाले झकड़ी फिडर से दो फिडर बनवाये जाये व पेदे खां तालाब से 61 एचजी तक जर्जर तार बदलवाये जाये और गांव करनपुर माफी व करनपुरी में लाईट के लिए ट्रंासफार्मर लगाये जाये। छोटे किसानों को सिंचाई करने के लिए 3 एचडी के कनेक्शन दिये जाये। हसनपुर में नये विद्युत गृह को शीघ्र ही चालू किया जाये, देवीय आपदा से जूझ रहे किसानों के बिजली बिल माफ किये जाये, किसानों के बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान किया जाये। धरने पर बैठने वालो में अमरपाल सिंह, फूर्तिबाबू चौहान, जसवंत सिंह, मास्टर विरेन्द्र कुमार, देवेन्द्र सैनी, साबिर अली, ज्ञान सिंह, ब्रजपाल सिंह, चौधरी जयकीरत सिंह, वीरेन्द्र कुमार, राजू चौहान, योगेन्द्र कुमार, सोनू चौहान, सरजीत सिंह, हरकेश सिंह चौहान आदि शामिल रहे।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3