ऐसे दिया था जेवर कांड को अंजाम, एसएसपी ने सुनाई वारदात की कहानी

जेवर जेवर गैंगरेप कांड के चार आरोपियों को रविवार तड़के मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया. दो फरार बदमाशों की तलाश में दबिश दी जा रही है. नोएडा के एसएसपी लव कुमार ने रविवार को आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि किस तरह से पुलिस करीब दो महीने बाद बदमाशों तक पहुंचने में कामयाब हो पाई. पकड़े गए बदमाश बावरिया गैंग से जुड़े हैं.एसएसपी लव कुमार ने बताया कि जेवर कांड के आरोपियों को पकड़ना उनके लिए किसी चुनौती से कम नहीं था. आरोपियों को पकड़ने के लिए कई टीम लगी हुईं थीं. अलीगढ़ और बुलंदशहर पुलिस के साथ-साथ यूपी एसटीएफ भी बदमाशों की तलाश में जुटी हुई थी. इन दो महीनों के दौरान कई गैंग्स को ट्रेस किया गया. जिसके बाद शनिवार देर रात पुलिस को इन बदमाशों के कार से जेवर आने की सूचना मिली. पुलिस ने जाल बिछाया और जैसे ही बदमाश वहां आए, पुलिस ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की लेकिन बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को गोली लगी, जबकि तीन बदमाशों को धर दबोचा. दो बदमाश मौके से भागने में कामयाब रहे. एसएसपी ने कहा, पुलिस की एक टीम उनकी तलाश में जेवर से सटे आसपास के इलाकों में लगातार दबिश दे रही है. जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.एसएसपी लव कुमार ने बताया कि पकड़े गए बदमाश भरतपुर, झज्जर और बुलंदशहर के रहने वाले हैं. बदमाशों ने जेवर गैंगरेप कांड को अंजाम देने की बात कबूल कर ली है. बदमाशों के पास से जेवर कांड के पीड़ितों के दो मोबाइल भी मिले हैं. साथ ही इनके पास से 3 तमंचे, जेवरात, कार, सरिया, एक्सेल आदि सामान बरामद किया गया है. बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि वह लोग रात के समय वारदात को अंजाम देते थे. चर्चित जेवर कांड में गिरोह के 8 लोग शामिल थे. घटना में उन्होंने स्कॉर्पियो कार का इस्तेमाल किया था. उन्होंने लूट के इरादे से जेवर कांड को अंजाम दिया था. एसएसपी ने बताया कि चारों महिलाओं से गैंगरेप की पुष्टि जांच के आधार पर हुई थी. बीते 25 मई को ग्रेटर नोएडा के जेवर थाना इलाके स्थित साबौता गांव के पास करीब आधा दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने कार से जा रहे एक परिवार के साथ लूटपाट की थी. विरोध करने पर बदमाशों ने परिवार के मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इतना ही नहीं कार में सवार चार महिलाओं के साथ गैंगरेप किए जाने की बात भी सामने आई थी. इस मामले में एक पीड़िता के बयान देने और फिर बाद में अपने ही बयान से मुकरने को लेकर भी खासा विवाद हुआ था.

बुलंदशहर जैसी घटना, जालौन में पति के सामने महिला से गैंगरेप

जालौन में पति को बांधकर 8 लोगों ने किया बीवी से गैंगरेप जालौन। देश के लोग अभी बुलंदशहर गैंगरेप की घटना को जेहन से शायद ही निकाल पाएं हो कि जालौन में उसी तरह का कांड फिर दोहराया गया। कुछ संदिग्धों को भी पुलिस ने लिया हिरासत में लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है। परसों रात जयपुर से लौट रहे दंपत्ति को लिफ्ट देने के बहाने जालौन लूटा गया और फिर आठ लोगों ने पति के सामने ही महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया। कल पीडि़ता को मेडिकल के लिए भेजा गया है। पुलिस के अनुसार इस मामले में दो सीओ के नेतृत्व में पांच टीमें बनाई गईं हैं। जयपुर से लौट रहे दंपती को परसों रात पिकअप सवार बदमाशों ने कोतवाली क्षेत्र में मारपीट कर लूट पाट की। इसके बाद इन आठ लोगों ने पति को बंधक बनाकर उसके सामने ही महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश कर रही है। कुठौंद थाना क्षेत्र के बड़ी सुरावली निवासी एक दंपती जयपुर (राजस्थान) में रह कर पानीपूरी का ठेला लगाते हैं। परसों जयपुर से औरैया तक बस से आए। यहां से गांव के लिए एक सफेद रंग की पिकअप में सवार हो गए। इस पिकअप में पहले से पीछे तीन लोग बैठे हुए थे। रात करीब नौ बजे पिकअप चालक कुठौंद चौराहे पर पहुंचा। जहां पर आधा घंटे रूकने के बाद पांच अन्य गोहन के लिए बैठ गए। इस पर पिकअप चालक ने दंपती को आगे बैठा लिया। सहाव मोड़ के पास चालक ने गाड़ी रोक दी। इसके बाद गाड़ी में सवार सभी बदमाशों ने उनके साथ मारपीट करते हुए बीस हजार रुपए, मंगल सूत्र लूट लिया। पति को बंधक बना महिला के साथ आठ लोगों ने दुष्कर्म किया। दरिंदों ने बारी-बारी से महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दे डाला। घटना को अंजाम देने के बाद दरिंदे मौके से फरार हो गए। पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है। देर रात जालौन कोतवाली पहुंचे दंपती ने आपबीती सुनाई। प्रभारी निरीक्षक महाराज तोमर ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज करके महिला का मेडिकल कराया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। प्रदेश में भले ही योगी आदित्यनाथ सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियों स्क्वॉड का गठन कर कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने का दावा कर रही है, लेकिन माहौल बेहद ही अराजक है। अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। जालौन में एक महिला से उसके पति के सामने ही हवस के भूखे भेडिय़ों ने गैंगरेप किया। बीते वर्ष बुलंदशहर में रोड होल्ड अब के बाद गैंगरेप की घटना ने सबको झकझोर कर रख दिया था। इस सनसनीखेज घटना ने भी कानून-व्यवस्था और महिला सुरक्षा पर पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3