एयरफोर्स डे पर आसमान में दिखी वायुसेना की ताकत

वायुसेना किसी भी चुनौती और खतरे से निपटने के लिए तैयार: IAF प्रमुख अरुप राहा
हिंडन (गाजियाबाद)। हिंडन एयरबेस पर शनिवार को 84वें एयरफोर्स डे पर वायुसेना ने अपने शौर्य और ताकत का प्रदर्शन किया। वायुसेना के जांबाजों ने आसमान में हैरतअंगेज करतब दिखाए। पैराशूटर्स ने अपने करतबों से जहां लोगों का दिल जीता वहीं तिरंगे पैराशूट से छलांग भी लगाई। इसके अलावा भी देश में एयरफोर्स डे पर विभिन्न एयरफोर्स स्टेशनों में स्काई मार्च पास्ट के आयोजन किए जा रहे हैं। वायु सेना प्रमुख अरूप राहा ने इस मौके पर कहा, "हाल में सेना पर हुए हमले इस बात की ताकीद करते हैं कि हम कितने मुश्किल समय में जी रहे हैं।" उन्होंने कहा कि हमारे सुरक्षाबल हर तरह की स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। हमें खतरों से निपटने के लिए बड़े सुधार करने होंगे। उरी और पठानकोट हमलों का जिक्र करते हुए एयरफोर्स चीफ ने बताया कि ताकत बढ़ाने के लिए कई बड़े फैसले लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि 120 तेजस विमानों का ऑर्डर दिया गया है और अगले कुछ सालों में 36 राफेल विमान भी एयरफोर्स को मिल जाएंगे।
इस अवसर पर हिंडन एयरबेस पर आसमान में देश की आन बान शान के प्रतीक लड़ाकू विमानों ने हवा में मार्चपास्ट किया। वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने हवा में करतब दिखाये। हवा में करतब दिखाने वाले विमानों में हरकुलिस सी 13ए, मिग 29, सुखोई, सी 17 ग्लोव मास्टर, जगुआर तथा सारंग थे। दो साल बाद हवाई परेड में शामिल हुए सारंग ने सबके दिल जीत लिए। पुराने विमानों ने अपने प्रदर्शन दिखाए। वायुसेना के लड़ाकू विमानों के अलावा मालवाहक विमानों के साथ जवानों ने भी अपना दम-खम दिखाया। आकाश गंगा की टीम ने 2000 फीट की ऊंचाई से पैराशूट से कार्यक्रम स्थल पर उतर कर की। आकाश गंगा की टीम का नेतृत्व वायुसैनिक गजानन यादव ने की। एयरफोर्स डे पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश के जांबाजों को सलाम किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी भारतीय वायु सेना के 84वें स्थापना दिवस के मौके पर वायु सैनिकों को सैल्यूट किया और कहा कि हमारे आकाश की सुरक्षा के लिए धन्यवाद। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर एयरफोर्स डे कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा में एयरफोर्स का योदगान बहुत अहम है। एयरफोर्स डे पर आयोजित समारोह में सेना प्रमुख जनरल दलबीर सिंह और सचिन तेंदुलकर समेत तमाम हस्तियां भी शामिल हुईं। वायुसेना प्रमुख ने यह भी कहा कि बल की ताकत बढ़ाने के लिए कई बड़े फैसले लिए गए हैं। आतंकी हमलों को लेकर अरुप राहा ने कहा कि हम काफी स्‍मार्ट तरीके अपना रहे हैं और किसी भी हालात से निपटने के लिए तैयार हैं।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3