अंजुमन हुसैनी के सौगवारान ने किया मातम

हापुड़। मुहर्रम की चार तारीख को इमाम बारगाह सय्यद जमाल हुसैन शाह सिकंदरगेट में एक मजलिस का आयोजन किया। मजलिस में बड़ी तादाद में समाज के लोग शामिल हुए और साथ ही अंजुमन हुसैनी के सौगवारान ने जुलूस निकालकर सीनाजनी व जंजीर का मातम किया। मौलाना अली जव्वाद ने खिताब करते हुए कहा कि इमाम हुसैन अ.ने किसी एक मजहब के लिए कुर्बानी नहीं दी, बल्कि आलमे इंसानियत को जिंदा रखने के लिए कुर्बानी दी। खिताब के बाद जुलजनाह और अलम बरामद किए। जिसमें अंजुमन हुसैनी के सौगवारान ने सीना जनी व जंजीर जनी का मातम किया। जिसमें अंजुमन हुसैनी के नौहाख्वान मौहम्मद अली नकवी व अथहर अब्बास जरगाम, तहसीन हैदर नौहा खुवानी करते हुए जुलूस सिकंदरगेट स्थित इमाम बारगाह से किला कोना, इमाम बारगाह, कोटला सादात, इमाम बारगाह व इमाम बारगाह नवाब असकरी मिर्जा गेट से होते हुए खिड़की बाजार, पुराना बाजार से होते हुए इमाम बारगाह सैयद जमाल हुसैन शाह सिकंदर गेट पर पहुंचकर संपन्न हुआ। जुलूस का संचालन अध्यक्ष राशिद हुसैन रिजवी व सेके्रटरी हसीन रिजवी ने किया।

पांच करोड़ खर्च के बावजूद नाला निर्माण अधूरा

हापुड़/ब्यूरो। शहर की जनता को जलभराव की समस्या से निजात दिलाने के लिए नगर पालिका परिषद द्वारा करीब पांच करोड़ की लागत से बनवाया करीब साढ़े तीन किलोमीटर लंबे नाला निर्माण आज भी अधर में लटका पड़ा है। बताया गया कि मेरठ तिराहे स्थित धार्मिक स्थल के कारण नाले निर्माण पूर्ण नहीं हो सका है। आपको बता दें कि बरसात के दिनों में शहर में होने वाली जलभराव की समस्या से जनता को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता हैं। नगर पालिका परिषद अध्यक्ष से लोगों ने समस्या से निजात दिलाने की मांग की थी। नगर पालिका परिषद की बोर्ड बैठक में दिल्ली रोड से गढ़ रोड स्थित रेलवे फाटक पार तक करीब साढ़े तीन किलोमीटर लंबे नाला निर्माण का प्रस्ताव पास कर दिया था। जिसके निर्माण पर करीब पांच करोड़ की लागत आयी। नगर पालिका परिषद ने 4.5 करोड़ से नाला निर्माण कराने का ठेका जल निगम को दे दिया। जिसके उपरांत से जल द्वारा शहर में नाले का निर्माण कराया गया। बताया गया कि नाले का निर्माण अक्तूबर, 2015 में में पूर्ण हो जाना चाहिए था, लेकिन मेरठ तिराहा स्थित धार्मिक स्थल के कारण नाला निर्माण पूर्ण नहीं हो सका है। इस संबंध में नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी संजय मिश्रा ने बताया कि मेरठ रोड तिराहा स्थित गुरुद्वारे के कारण नाला निर्माण पूर्ण नहीं हो सका है। दीपावली उपरांत समस्या का समाधान किया जाएगा। नाला निर्माण पूर्ण होने पर उसे दिल्ली रोड स्थित मुख्य नाले से जोड़ा जाएगा, जिससे शहर में जलभराव की समस्या खत्म होगी।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3