अखिलेश यादव कन्नौज से तो नेताजी मैनपुरी से लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनाव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ऐलान किया है कि वह आने वाले लोकसभा चुनाव में कन्नौज सीट से चुनाव लड़ेंगे। वहीं उनके पिता मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से चुनाव लड़ेंगे। जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि पर सोमवार को लखनऊ के लोहिया ट्रस्ट में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने ये बात कही। गौरतलब है कि कन्नौज सीट से वर्तमान में अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव सांसद हैं। डिंपल से पहले इस सीट पर समाजवादी पार्टी के जाने-माने नेता जनेश्वर मिश्र चुनाव लड़ते थे।अखिलेश यादव ने मीडिया के एक सवाल के जवाब में कहा कि कन्नौज जनेश्वर मिश्र जी की सीट रही है। इसलिए मैं चाहता हूं कि मुझे भी वहीं से लड़ने का मौका मिले। बता दें कि कन्नौज और मैनपुरी समाजवादियों का गढ़ माना जाता है। कन्नौज में विधानभा की तीन सीटें हैं। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में सपा यूपी की 80 सीटों में से सिर्फ पांच सीटों पर ही जीत पाई थी। जीतने वालों में मुलायम सिंह और उनके परिवार के लोग ही शामिल थे। हालांकि, 2009 के लोकसभा चुनाव में भी अखिलेश ने कन्नौज और फिरोजाबाद से चुनाव लड़ा था और दोनों जगह जीत हासिल की थी। बाद में फिरोजाबाद सीट छोड़ दी थी। इस सीट पर पति की कामयाबी दोहराने के लिए डिंपल यादव ने चुनाव लड़ा लेकिन उन्हें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज बब्बर ने मात दी थी। 2012 में मुख्यमंत्री बनने के बाद अखिलेश ने कन्नौज लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया. बाद में डिंपल यहा से नि‌र्विरोध जीत गईं थीं।

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

लखनऊ सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई। माना जा रहा है कि सोमवार को वह यूपी के डीजीपी का पदभार संभाल लेंगे।आज अधिकारिक घोषणा होने के साथ ही पिछले 20 दिनों से जारी अटकलों पर विराम लग गया। 30 दिसंबर को यूपी पुलिस के पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह का कार्यकाल समाप्त हो गया था। उसी दिन सीएम योगी ने ओपी सिंह से मुलाकात कर उनके नाम पर मुहर लगा दी थी। लेकिन केंद्र से रिलीविंग न मिलने के कारण उनकी ज्वॉइनिंग को लेकर प्रदेश में अटकलों का बाजार पिछले दिनों कुछ ज्यादा ही गर्म हो गया था। यह पहली बार है जब प्रदेश के डीजीपी का पद इतने लंबे समय तक खाली रहा है।

More Articles...

  1. ब्राइटलैंड स्कूल दो दिन के लिए बंद, छात्रा हुई जुवेनाइल कोर्ट में पेश
  2. हर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा बुलंद करने वाले अपने ही घर में बेघर होते-होते बचे: मायावती
  3. यूपी पुलिस में करीब 42 हजार सिपाहियों की भर्ती शुरू, जानें ऑनलाइन आवेदन की तारीख
  4. मकर संक्रांति में लंबे समय बाद बन रहे बेहद उपयोगी संयोग
  5. यूपी में भाजपा के खिलाफ आसान नहीं विपक्षी एकता, सपा से बसपा-कांग्रेस की दूरी ने दिए संकेत
  6. लखनऊ हज हाउस का भी हुआ भगवाकरण, हरे पर चढ़ा केसरिया रंग
  7. यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल से चलाई गई मुहिम का दिखा असर, हजारों शिकायतों का हुआ निपटारा
  8. इन्वेस्टर्स समिट प्रदेश की छवि निखारने का अवसर, लापरवाही बर्दाश्त नहीं : सीएम योगी
  9. कैबिनेट बैठक में भर्तियों से जुड़ा अखिलेश सरकार का यह फैसला पलट सकते हैं सीएम योगी
  10. बिजली चोरी का मास्टर माइंड गिरफ्तार, ऐसे लगा रहा था लाखों का चूना

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3