अखिलेश राज में नौकरी देने में हुई जमकर वसूली, महिला बनी राजस्व निरीक्षक

लखनऊ । प्रदेश में अखिलेश यादव के राज में तमाम घोटालों के साथ ही भर्तियों में हुई धांधली के मामले भी सामने आने लगे हैं। नगर निगम में कुछ समय पहले तैनात हुई राजस्व निरीक्षक अनामिका यादव एक वायरल वीडियो में गलत तरीके से प्रतियोगी परीक्षा पास करने की बात कह रही है। लखनऊ में तैनात अनामिका यादव उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षा पास करने के बाद राजस्व निरीक्षक के पद पर तैनात हैं। उनका वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने बताया कि किस तरह से हर मोड़ पर पैसे खर्च कर उन्होंने परीक्षा पास की थी। उन्होंने एक रेस्टोरेंट में सामने बैठे युवक से कहा कि मैं तो पैसे देकर राजस्व निरीक्षक बनी हूं। नौकरी के एवज में पैसे देना उत्तर प्रदेश में एक सामान्य सी बात हो गई है। पिछली सरकारों में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। यहां तक कि हाईकोर्ट ने भी कुछ मामलों का संज्ञान लिया और उस भर्ती पर रोक लगा दी। इसी प्रकार का एक मामला और सामने आया है। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की पिछली सरकार के दौरान राजस्व निरीक्षक की भर्ती पर सवालिया निशान लग गया है। कुछ समय पहले तैनात हुई राजस्व निरीक्षक अनामिका यादव का एक वीडियो वायरल हुआ है। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की पिछली सरकार के दौरान हुई राजस्व निरीक्षक की भर्ती प्रक्रिया पर बड़ा सवालिया निशान लग गया है। नगर निगम में कुछ समय पहले तैनात हुई राजस्व निरीक्षक अनामिका यादव एक वायरल वीडियो में गलत तरीके से प्रतियोगी परीक्षा पास करने की बात कह रही है। उसने कहा कि उसको 2016 में हुई राजस्व निरीक्षक की परीक्षा की आंसर शीट पहले मिल गई थी। वीडियो में वह घूस देने की भी बात कह रही है। नगर आयुक्त उदयराज सिंह को इस संबंध में एक गुमनाम पत्र के जरिये कल शिकायत की गई है। जिसमें बताया गया है कि महिला का वीडियो आलमबाग के एक रेस्टोरेंट में बनाया गया था। नगर आयुक्त ने जांच अपर नगर आयुक्त नंदलाल को सौंपी है। आरोपी महिला का कहना है कि वीडियो में छेड़छाड़ की गई है। कानपुर निवासी सत्येंद्र यादव साजिशकर्ता है। वह उस पर शादी का दबाव बना रहा है। उसके खिलाफ आलमबाग थाने में तहरीर दी है। नगर आयुक्त ने बताया कि अनामिका यादव पुत्री रामहेत यादव के खिलाफ शिकायत की गई है। उसका परीक्षा अनुक्रमांक 00097774 था। परीक्षा तो उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने करवाई थी। जिसके बाद में शासन की ओर से उसको नगर निगम लखनऊ में तैनाती दी गई थी।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने आगरा में रोड शो कर दिखाई ताक़त

काफिले के साथ बिना टोल टैक्स दिए निकले भाजपा के यूपी अध्यक्ष, पूछा तो बोले- टोल फ्री हूं मैं उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष और चंदौली से सांसद महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा है कि वे सासंद हैं इसलिए टोल फ्री हैं। उन्होंने ये बात टोल ऑपरेटर द्वारा, आप टोल क्यों नहीं देंगे, पूछे जाने पर कही। दरअसल सूबे के अध्यक्ष इन दिनों आगरा दौरे पर हैं। जब उनका काफिले टोल रोड की तरफ पहुंचा तब किसी भी गाड़ी ने टोल टैक्स नहीं दिया। न्यूज एजेंसी एएनआई की खबर के अनुसार जब उनसे पूछा कि आपने टोल टैक्स क्यों नहीं दिया? जवाब में महेंद्र नाथ पांडेय नेता ने कहा, ‘आपके पास कोई और सवाल है, मैं सांसद हूं, और मैं टोल फ्री हूं।’ इससे पहले शनिवार को प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय आगरा पहुंचे तो उनके स्वागत में कार्यकर्ताओं का सैलाब उमड़ पड़ा। वहीं आगरा पहुंचने से पहले प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय का भाजपा कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह स्वागत किया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद महेंद्र नाथ पांडेय पहली बार आगरा पहुंचे, जिनका कार्यकर्ताओं ने बैंड-बाजे के साथ स्वागत किया। इसी साल बीजेपी ने सांसद महेंद्र नाथ पांडेय को उत्तर प्रदेश बीजेपी का अध्यक्ष नियुक्त किया था। महेंद्र नाथ पांडेय मोदी मंत्रिमंडल में मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री भी रह चुके हैं। वे चंदौली से सांसद हैं। पांडेय ने उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की जगह ली है। गौरतलब है कि इससे पहले राजस्थान के भरतपुर में बीजेपी सांसद बहादुर सिंह कोली एक टोलकर्मी से सरेआम मारपीट करते दिखे थे। इसी साल 17 जुलाई को नेशनल हाईवे-11 पर भरतपुर के लुधावई टोल प्लाजा पर बीजेपी सांसद ने मारपीट की थी, जो सीसीटीवी में कैद हुई थी। इसमें बहादुर सिंह एक गार्ड को थप्पड़ मारते साफ दिखाई पड़ थे।

More Articles...

  1. छह महीने में 15 एन्काउंटर, 868 कुख्यात अपराधी हुए गिरफ्तार
  2. इटावा में गाड़ी का टायर फटने के बाद हादसे से बचे क्रिकेटर सुरेश रैना
  3. तलाक के खौफ से बाहर निकली मुस्लिम महिला, शौहर को भेजा 'खुला', बोली- अब मैं आजाद
  4. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने जारी की फर्जी बाबाओं की सूची, जानें लिस्ट में हैं किन-किनके नाम
  5. नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित कैबिनेट विस्तार में उत्तर प्रदेश से बदलेंगे चेहरे
  6. लखनऊ में सीएम आवास के पास निकला मगरमच्छ, लोगों में दहशत
  7. लखनऊ में सरेआम व्यापारी की गोली मारकर हत्या, बवाल-तोड़फोड़, एक गिरफ्तार
  8. सीएम योगी व दोनों डिप्टी सीएम बनेंगे यूपी विधान परिषद के सदस्य, पर मुश्किलें अब भी
  9. भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकता को झटका, मायावती का 27 को पटना जाने से इन्कार
  10. देश में 2022 तक खत्म होगी आतंक और नक्सल समस्या: राजनाथ

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3