आईसीयू में भर्ती पूर्व सीएम एनडी तिवारी से मिलने दिल्ली पहुंचे योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी से मिलने दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स अस्पताल पहुंचे। सीएम योगी ने तिवारी के परिजनों से उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त की। बता दें कि एनडी तिवारी की हालत अभी भी स्थिर बनी हुई है। गौरतलब है कि नारायण दत्त तिवारी को बुखार और निमोनिया था, जिसके चलते उन्हें अस्पताल के आईसीयू में रखा गया है। वो 26 अक्टूबर से आईसीयू में भर्ती हैं। डॉक्टरों ने बताया कि एनडी तिवारी का ब्लड प्रेशर काफी कम हो गया था और हालत ज्यादा बिगड़ने के कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। नारायण दत्त तिवारी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। तिवारी उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड दोनों ही राज्यों के मुख्यमंत्री रहे हैं। 1 जनवरी, 1976 को वह पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। तिवारी 3 बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। उत्तर प्रदेश के विभाजन के बाद वे उत्तरांचल के भी मुख्यमंत्री बने।बता दें कि हालत गंभीर होने पर शनिवार को दिल्ली के निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। अस्पताल में फिजियोथेरेपी कराए जाने के दौरान उन्होंने प्रतिक्रिया देना बंद कर दिया था। जिसके बाद उन्हें अस्पताल के आइसीयू में भर्ती किया गया है। उनके सहायक की मानें तो स्वास्थ्य अधिक खराब होने के कारण उन्हें लगातार फिजियोथेरेपी दी जा रही थी। इसी बीच उनके शरीर ने कोई प्रतिक्रिया देना बंद कर दिया। उधर, वहीं मौजूद उनके बेटे रोहित शेखर तिवारी ने तुरंत डॉक्टरों की टीम को सूचित किया। इसके बाद डॉक्टरों की सलाह पर एनडी तिवारी को आइसीयू में भर्ती किया। गौरतलब है कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे नारायण दत्त तिवारी को ब्रेन स्ट्रोक के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तभी से उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य और यूपी की स्वच्छता पर साथ काम करना चाहते हैं बिल गेट्स

लखनऊ । सॉफ्टवेयर की दुनिया के दिग्गज बिल गेट्स ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ आज मुलाकात की। करीब 40-45 मिनट की इस मुलाकात के दौरान प्रदेश को चिकित्सा के क्षेत्र में मजबूत करने को लेकर करार किया गया। सीएम योगी आदित्यनाथ तथा बिल गेट्स की मौजूदगी में बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन तथा सीएम योगी आदित्यनाथ की कर्मस्थली गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज के बीच करार हुआ। यहां पर जापानी इन्सेफेलाइटिस के साथ एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम के खात्मे के लिए गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में स्थापित रीजनल वायरल रिसर्च इंस्टीट्यूट और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के बीच पार्टनरशिप पर सहमति बनी। इसके साथ ही प्रदेश में फाइलेरिया के उन्मूलन के लिए बिल गेट्स ने तीन ड्रग थेरेपी अनपनाने का सुझाव दिया। प्रदेश के किसानों की आय दोगुनी करने के दृष्टिगत बिल गेट्स ने मृदा परीक्षण के लिए केमिकल की बजाय स्पेक्ट्रोस्कोपी तकनीक अपनाने का मशविरा दिया। फाउंडेशन की ओर से किसानों को उन्नत किस्म के बीज मुहैया कराने और खेती की उन्नत तकनीक सिखाने का भरोसा दिलाया गया। बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन की और से प्रदेश में स्वास्थ्य, कृषि, नगरीय क्षेत्र में कूड़ा प्रबन्धन के क्षेत्रों में सहयोग करने पर चर्चा हुई। बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और उत्तर प्रदेश सरकार के बीच 2012 में हस्ताक्षरित हुए मेमोरेंडम ऑफ कोऑपरेशन के नवीनीकरण और उसका दायरा बढ़ाने पर चर्चा हुई। बिल गेट्स ने अपनी पत्नी मेलिंडा तथा कंपनी के शीर्ष अधिकारियों के साथ आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उनके कार्यालय लाल बहादुर शास्त्री भवन (एनेक्सी) में मुलाकात की। बिल गेट्स फाउंडेशन के कामों को लेकर इनके बीच चर्चा हुई। बैठक में प्रदेश के कई विभागों के प्रमुख सचिव भी सूबे के मुख्य सचिव राजीव कुमार के साथ मौजूद थे। प्रमुख सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बिल गेट्स के बीच वेक्टर बॉर्न, वाटर बॉर्न डिसीज के बारे में बात हुई। इसके अलावा पेयजल के बारे में भी चर्चा हुई। पूर्वांचल में इंसेफलाइटिस के बारे में बात हुई है, जिससे हाल ही में उनके पूर्व संसदीय क्षेत्र गोरखपुर में 60 बच्चों की मौत हो गयी थी। इसके अलावा एक्यूट इंसेफलाइटिस के लिए खास बात हुई है जो सेनिटेशन और पीने के पानी से जुड़ा है। उन्होंने आगे बताया कि, एक्यूट इंसेफलाइटिस के रोक थाम पर काम करने के लिए एमओयू साइन किया गया है। प्रदेश में कुपोषण की स्थिति पर भी चर्चा हुई है। किसानों की आय को दोगुना करने के लिए चर्चा हुई है। नई तकनीकी के साथ आय बढ़ाने का काम करेंगे। इसके साथ ही सोईल टेस्टिंग(मृदा परीक्षण) और बीजों को लेकर भी बात की गयी। बैठक में बताया गया कि, फाउंडेशन फाइलेरिया पर काम कर रहा है। फाइलेरिया को पूरी तरह से खत्म करने के लिए आज चर्चा हुई है।

More Articles...

  1. भाजपा विकास का काम नहीं, नफरत फैलाने का काम कर रहीः अखिलेश‌ यादव
  2. वायु प्रदूषण की स्थिति बदतर होने पर अब कृत्रिम बारिश कराएगी योगी सरकार
  3. लखनऊ: राम मंदिर मुद्दे पर कई पक्षों से मिले श्री श्री रविशंकर, बोले-कोई फॉर्मूला नहीं, बातचीत जारी
  4. पिता ने ही मारी थी मार्टिना को पांच गोलियां, मां ने किया हत्या‍ की वजह का खुलासा
  5. डीएम ने रद्द किया लिटरेरी फेस्ट, आयोजक बोले-फेसबुक लाइव से होगा ओवैसी का कार्यक्रम
  6. देशद्रोही हूं तो देश के गृहमंत्री क्यों हैं खामोश- कन्हैया
  7. यूपी के सुप्रिटेंडेंट इंजीनियर पर आईटी का शिकंजा, 7 शहरों के 20 ठिकानों पर छापेमारी
  8. प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष दूसरी बार भी उपस्थित नहीं हुए नवाजुद्दीन, भाई ने दी पेशी
  9. प्रदेश के युवाओं को मिलेंगी नौकरियां, एचसीएल ने बनाया 1500 करोड़ निवेश का प्लान
  10. आज निरस्त रहेंगी लखनऊ-कानपुर रूट की 28 ट्रेने, ये है रद्द ट्रेनों की सूची

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3