पुलिस कार्यप्रणाली पर लगा सवालिया निशान

मेरठ। फलावदा थानाक्षेत्र के गांव नैडू में गत दिनों हुई रागिनी गायक की मौत से पुलिस ने कोई सबक नहीं लिया। हर्ष फायरिंग की घटना ने एक बार फिर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालियां निशान लगा दिया। फलावदा क्षेत्र के समसपुर में हुई हर्ष फायरिंग में एक व्यक्ति घायल हो गया। पुलिस ने घटना की जानकारी से इंकार किया है। गौरतलब है कि गत 11 मार्च को बसपा नेता भरतवीर सिंह के पुत्र की हुई सगाई में हर्ष फायरिंग के दौरान रागिनी गायक जोगिन्दर की मौत हो गई थी। यह मामला शासन तक गूंजा था। हर्ष फायरिंग की एक बार फिर हुई घटना ने कई सवाल खड़े कर दिए। समसपुर गांव में अमित फौजी पुत्र प्रवीन की सगाई का आयोजन किया जा रहा था, जिसमें उसके चाचा प्रदीप पुत्र सुरेन्द्र के दोस्त भी मुरादनगर से आए हुए थे। जिन्होंने समारोह में नशे में धुत होकर पिस्टल से अंधाधुंध गोलियां चलाई। एक गोली प्रदीप के हाथ में जा लगी और वह घायल हो गया। घटना से खुशी के माहौल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में घायल को मोदीपुरम स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस बारे में एसओ फलावदा ने घटना की जानकारी से इंकार किया है।

प्रेमी संग हुई तीन बच्चों की मां फरार

मेरठ। तीन बच्चों की मांग नकदी व जेवरात लेकर प्रेमी संग फरार हो गई। महिला के पति ने गांव के ही व्यक्ति पर आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। किठौर थानाक्षेत्र के नित्यानंदपुर निवासी एक व्यक्ति ने थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि वह गांव में मजदूरी करता है। रविवार को वह काम पर गया हुआ था। तभी उसकी पत्नी घर पर रखे बीस हजार रुपए और सोने व चांदी के आभूषण लेकर गांव के ही नईम पुत्र मोईन के साथ फरार हो गई। पीडि़त का आरोप है कि घटना के चश्मदीद उसके भतीजे को आरोपी राज खोलने या विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दे गया है। महिला अपने दो बेटों और बेटी को भी पति के घर ही छोड़ गई। पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3