ईमानदार पुलिस अधिकारी से जांच कराने की मांग

मेरठ, अ.हि.ब्यूरो। दर्जनों अधिवक्ता इकट्ठा होकर पुलिस कार्यलय पर पहुंचे। अधिवक्ताओं ने पुलिस कप्तान को बताया कि पुलिस अधिकारियों ने आरोपियों के रिश्तेदार दरोगा को ही मामले की जांच सौंप दी, ऐसे में पीडि़त अधिवक्ता को न्याय की आस नहीं की जा सकती है। अधिवक्ताओं ने पुलिस कप्तान से जांच किसी अन्य थाने में व ईमानदार पुलिस अधिकारी से कराए जाने की मांग की। कप्तान ने न्यायोचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। पुलिस कार्यालय पर पहुंचे अधिवक्ताओं ने बताया कि अनिल प्रधान एडवोकेट निवासी मोरना थाना भावनपुर का एक मुकदमा भावनपुर थाने में चल रहा था। जिसमें आरोपियेां के खिलाफ धारा 386, 452, 323, 504 और 506 आईपीसी में दर्ज है। अधिवक्तओं ने बताया कि इस मुकमदें में एसएसपी द्वारा जांच शिकायत जांच प्रकोष्ठ कार्ररत एसआई एमपी सिंह को दी गई, लेकिन एमपी सिंह आरोपियों के सगे रिश्तेदार हैं। ऐसे में रिश्तेदार दरोगा आरोपियों को लाभ पहुंचाने के लिए कार्य करेंगे। अधिवक्ताओं ने उक्त जांच को क्राइम ब्रांच व किसी अन्य थाने से कराए जाने की मांग की। साथ ही कहा कि अगर जांच उक्त दरोगा से कराई गई तो अधिवक्ता आंदोलन करने के लिये बाध्य होंगे।

दो अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरफ्तार

मेरठ, अ.हि.ब्यूरो। नौचंदी पुलिस ने आरटीओ पुलिया के पास चैकिंग के दौरान दो अंतर्राज्यीय वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए वाहन चोरों की निशानदेही पर पुलिस ने चोरी के कुल नौ वाहन बरामद किए हैं, जिनमें दो स्कूटर भी शामिल हैं। पुलिस पकड़े गए दोनों वाहन चोरों से पूछताछ कर रही है। नौचंदी थाना क्षेत्र के आरटीओ पुलिया के पास बुधवार सुबह नौचंदी पुलिस चैकिंग अभियान में मशगूल रही। इसी दौरान वहां से गुजर रहे बाइक व स्कूटी पर सवार दो युवकों को पुलिस ने चैकिंग के लिए रोक लिया। काफी पूछताछ के बाद भी दोनों युवक वाहनों के कागजात नहीं दिखा सके। इसके बाद पुलिस दोनों को थाने ले आई। यहां पूछताछ के दौरान दोनों ने अपनी पहचान जली कोठी थाना देहलीगेट के सुहेल पुत्र शहीद व मोहम्मद आसिफ पुत्र जहूर अहमद के रूप में की। पुलिस द्वारा सख्ती से की गई पूछताछ में उन्होंने खुद के पास मौजूद स्कूटी व बाइक का सच उगल दिया। युवकों ने बताया कि यह दोनों वाहन चोरी के है, जिन्हें वह ठिकाने लगाने निकलते थे। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर नौचंदी ग्राउंड पटेल मंडप के पास से बेचने के इरादे से छिपाकर रखी गई छह अन्य बाइक भी बरामद कर लीं। थाने में बुलाई गई पत्रकारवार्ता के दौरान एसपी सिटी ओपी सिंह ने बताया कि पकड़े गए दोनों युवक शातिर किस्म के वाहन चोर हैं। उनके पास से बरामद हुए चोरी के वाहन उन्होंने मेरठ के अलावा गाजियाबाद, दिल्ली, मुजफ्फर नगर से चुराए हैं। इन वाहनों में दो बिना नंबर के एक्टिवा स्कूटर के अलावा सात स्पलेंडर बाइक भी शामिल हैं। इस मौके पर थाना प्रभारी निरीक्षक हरशरण शर्मा भी मौजूद रहे।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3