मुजफ्फरनगर: सड़क हादसे में दो बच्चों की मौत के बाद जमकर हुआ बवाल

मुजफ्फरनगर दिल्ली-देहरादून हाईवे पर छपार में शनिवार की सुबह स्कूल जा रहे पांच बच्चों को एक बेकाबू ट्रक ने कुचल दिया। दो बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन बच्चों समेत पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।
घटना से गुस्साए लोगों ने हाइवे पर जाम लगा दिया। भीड़ ने मौके पर पहुंची पुलिस पर पथराव किया। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज और फायरिंग की, जिसमें कई ग्रामीण और पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। घटना स्थल पर पुलिस व प्रशासनिक अमला स्थिति को संभालने में जुटा है।
छपार में शनिवार सुबह जयभारत इंटर कॉलेज के बच्चे स्कूल जा रहे थे। इसी बीच हरिद्वार की और से तेज गति से आए एक ट्रक ने पंजाब नेशनल बैंक के सामने खडे़ भैंसों से भरे मिनी ट्रक में टक्कर मार दी। मिनी ट्रक में टक्कर के बाद ट्रक ने सड़क पर जा रहे कई स्कूली बच्चों को कुचल दिया।
ट्रक की चपेट में आई कक्षा छह के बुशरा पुत्री इस्लाम (12 साल), अनस पुत्र रहीस (12) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं तीन अन्य बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। टक्कर लगने से मिनी ट्रक का ड्राइवर आदिल पुत्र मनवब भी गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद ट्रक सड़क के किनारे एक गड्डे में दीवार पर पलट गया। पुलिस ने घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। यहां से उन्हें मेरठ रेफर कर दिया गया।
इस बीच घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने ट्रक में जमकर तोड़फोड की और हाइवे पर जाम लगा दिया। शव उठाकर जाम खुलवाने का प्रयास कर रही पुलिस पर ग्रामीणों ने पथराव किया तो पुलिस ने ग्रामीणों पर जमकर लाठियां चलाईं और हवाई फायरिंग की। पथराव और लाठीचार्ज में कई ग्रामीणों के साथ छह पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। घायलों में दो पुलिस उपाधीक्षक भी शामिल हैं।
घटना के बाद तनाव को देखते हुए छपार में अघोषित कफ्र्यू के हालत बन गए हैं। सभी दुकाने बंद हो गईं। एसएसपी केबी सिंह भारी फोर्स लेकर छपार में डेरा डाले हुए हैं। मौके पर एडीएम प्रशासन, एसडीएम सदर समेत कई अधिकारी स्थिति शांत करने के लिए लगाए गए हैं।

मुजफ्फरनगर में हिंदू युवक की हत्या के बाद तनाव, मस्जिद में घेरा मुस्लिमों को

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर के भूमा गांव में एक हिंदू युवक की हत्या के बाद इलाके में सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया है। घटना पर गुस्साई भीड ने एक मस्जिद में जा छिपे मुसलमानों को आधे दिन तक घेरे रखा। मंगलवार को हुई इस घटना में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाठीचार्ज और हवाई फायरिंग की और गांववालों को खदेडा, उसके बाद मुस्लिमों को मस्जिद से बाहर निकाला गया। मामली सोमवार रात उस वक्त शुरू हुआ जब चार बाइक सवार हमलावरों ने भूमा गांव के निवासी 25 वर्षीय सतवीर को उसके घर के बाहर गोली मार दी।

घटना के वक्त उस इलाके में कथित तौर पर तीन पुलिसवाले भी मौजूद थे। इसके बाद, बहुत सारे हिंदू पुलिस द्वारा कथित तौर पर एक्शन न लेने की वजह से पीडित के घर के बाहर इकटे हो गए और तुरंत कार्रवाई की मांग करते हुए प्रदर्शन करने लगे।
पुलिस के मुताबिक, बाद में भीड ने पत्थरबाजी और फायरिंग भी की। इसके अलावा, कुछ गाडियों को तोड डाला और कुछ में आग लगा दी। लोगों के गुस्से को देखते हुए इलाके में मौजूद मुसलमान परिवारों को मस्जिद में पनाह लेनी पडी। पुलिस ने मस्जिद में शरण लिए लोगों को बचाने के लिए मंगलवार दोपहर कार्रवाई, जिसमें एक पुलिस हवलदार घायल हो गया।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3