हड़ताल पर जताई सहमति

सहारनपुर। जिला ड्राइवर कंडेक्टर यूनियन की आयोजित बैठक में आगामी 2 सितंबर को होने वाली राष्ट्र व्यापी हड़ताल में भागेदारी करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान समस्त मार्गों पर बसों का संचालन न करने पर सभी चालकों व परिचालकों ने सहमति जताई। बेहट रोड स्थित बस स्टैंड पर आयोजित बैठक में केंद्र सरकार द्वारा सड़क दुर्घटनों को कम करने के उद्देश्य से एमवी एक्ट 1988 में संशोधन उपरांत धारा 185 के तहत चालक पर मुकदमा दर्ज किए जाने के बनाए कानून को काला कानून बताते हुए कहा कि यह यातायात के नियमों का उल्लंघन है। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम की धारा 19 व केंद्रीय मोटर नियमावली 1989 नियम 21 के तहत न केवल निश्चित अवधि के लिए चालक का लाइसेंस जब्त किया जाए, बल्कि उन्हें जेल भेजे जाने का भी प्राविधान है और वाहन दुर्घटना होने पर 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति की मृत्यु पर नये अधिनियम में तीन साल कैद व 3 लाख रूपये जुर्माना तथा 18 वर्ष से अधिक की मृत्यु पर 3 साल की कैद व एक लाख जुर्माने का प्राविधान किया गया है, जो पूर्णत: चालकों के खिलाफ कानून है। इस काले कानून का पुरजोर विरोध किया जायेगा। उन्होंने बताया कि यह कानून एक सितम्बर 2०15 से लागू होने जा रहा है और हर तीन महीने में अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का कहा गया है। इसके विरोध में दो सितम्बर को हड़ताल की जायेगी और बसों का चक्का जाम रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि विभिनन मार्गो पर चलने वाली लगभग 4००बसे पूर्णतया बंद रहेंगी और छोटे ऑटो, टैम्पू रिक्शा वाहन को भी बंद रखने का प्रयास किया जायेगा। इस दौरान मौ.राशिद ने भी अपने समर्थन की घोषणा की। इस अवसर पर मंसूर खान, मौ.फारूख, गयूर हसन, सुशील, बबली पंडित, ताहिर हसन, मोनू, अब्दुल मालिक, महक सिंह, साईन, मौ.आबिद, सलीम आदि मौजूद रहे। इस दौरान जनपद बस ऑपरेटर्स संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष मुकेश त्यागी ने भी समिति की ओर से सहयोग का आश्वासन दिया।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3