बसपा उत्तर प्रदेश में बनाएगी पूर्ण बहुमत की सरकार : मायावती

इस बार काम नहीं आएगा SP-BJP का दंगा कराने का षड्यंत्र
सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव की तैयारी काफी तेज कर चुकीं बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती प्रदेश के आगरा, आजमगढ़ व इलाहाबाद के बाद रविवार को सहारनपुर में मंडल स्तरीय सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय महारैली को संबोधित किया। सहारनपुर में कॉसमोस कालोनी रैली स्थल, दिल्ली रोड के खचाखच भरे मैदान में मायावती ने कहा कि मुझे भरोसा है कि इस बार उत्तर प्रदेश में भाजपा तथा समाजवादी पार्टी का दंगा कराने का षडयंत्र काम नहीं आएगा। उत्तर प्रदेश में बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि‍ उनकी पार्टी अपर कास्‍ट के गरीबों को 10 फीसद आरक्षण देने के पक्ष में है। इसके लि‍ए उन्‍होंने संसद में भी मांग रखी थी। केंद्र में कांग्रेस की सरकार ने 70 हजार करोड़ रुपए माफ करने की बात कही, लेकि‍न आम कि‍सान इससे वंचि‍त है। यह धोखा हुआ है।
रैली में मायावती ने कहा कि कांग्रेस की हालत खराब है। उसे यूपी में सीएम कैंडि‍डेट नहीं मि‍ला। इसलि‍ए दि‍ल्‍ली से बुजुर्ग महि‍ला को लाकर यहां सीएम कैंडि‍डेट बनाया है। शीला दीक्षि‍त ने दि‍ल्‍ली में यूपी और बि‍हार के लाेगों का अपमान कि‍या है। गलत नीति‍यों से कांग्रेस सत्‍ता से बाहर हुई। यूपी की जनता कांग्रेस के बहकावे में नहीं आएगी। देश में कि‍सी भी कांग्रेस शासि‍त राज्‍यों में कोई वि‍कास नहीं हुआ। केंद्र में कांग्रेस की सरकार ने 70 हजार करोड़ रुपए माफ करने की बात कही, लेकि‍न आम कि‍सान इससे वंचि‍त है। यह धोखा हुआ है। यूपी में भाजपा ने कई वर्षों तक राज कि‍या, लेकि‍न वि‍कास नहीं हुआ। केवल सांप्रदायि‍क ताकतों को ही मजबूत कि‍या है। नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में सस्‍ते राशन देने का वादा कि‍या था। उल्‍टे महंगाई बढ़ी है। लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी ने कहा था कि‍ पूरे देश में बि‍जली, पानी, स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं सस्‍ती हो जाएंगी, लेकि‍न ऐसा नहीं हुआ। पूरे देश में 24 घंटे बि‍जली देने की बात कही थी, यह भी नहीं हुआ।
नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में गरीबी और महंगाई कम हो जाएगी, ऐसा नहीं हुआ। भाजपा की योजनाओं से धन्‍नासेठों को फायदा होगा। इसमें स्‍मार्ट सि‍टी योजना भी शामि‍ल है। पीएम मोदी ने जमीनी स्‍तर पर वि‍कास का काम नहीं कि‍या। नरेंद्र मोदी ने वि‍देश से कालाधन वापस लाकर लोगों के एकाउंट में 15-20 लाख रुपया जमा करने की बात कही थी, एक भी रुपया नहीं दि‍या। केंद्र द्वारा बने नए कानून से गरीब वर्ग दुखी है। सरकारी नौकरी में मि‍ले आरक्षण को भी केंद्र सरकार ने नि‍ष्‍प्रभावी बना दि‍या। प्राइवेट सेक्‍टर में आरक्षण का फायदा नहीं मि‍लता है। इसीलि‍ए केंद्र सरकार धीरे-धीरे अपना काम प्राइवेट सेक्‍टर को सौंंप रही है। वहां आरक्षण का लाभ नहीं मि‍लेगा और यह नि‍ष्‍प्रभावी हो जाएगा। दलि‍तों और पि‍छड़ों को आरक्षण से धीरेे-धीरे वंचि‍त रखने की साजि‍श का उन्‍होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया। सहारनपुर रैली में उमड़ी भीड़ के साथ ही मायावती आज सोशल मीडिया पर भी छाई रहीं। बसपा ने रविवार को भाजपा की तर्ज पर अपनी रैली का यू टयूब पर लाइव प्रसारण किया। सहारनपुर में दस आईटी विशेषज्ञों की टीम को जिम्मेदारी दी गई थी। रैली को लाइव दिखाने के लिए रैली स्थल पर बड़ी स्क्रीन लगी थी।

हड़ताल पर जताई सहमति

सहारनपुर। जिला ड्राइवर कंडेक्टर यूनियन की आयोजित बैठक में आगामी 2 सितंबर को होने वाली राष्ट्र व्यापी हड़ताल में भागेदारी करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान समस्त मार्गों पर बसों का संचालन न करने पर सभी चालकों व परिचालकों ने सहमति जताई। बेहट रोड स्थित बस स्टैंड पर आयोजित बैठक में केंद्र सरकार द्वारा सड़क दुर्घटनों को कम करने के उद्देश्य से एमवी एक्ट 1988 में संशोधन उपरांत धारा 185 के तहत चालक पर मुकदमा दर्ज किए जाने के बनाए कानून को काला कानून बताते हुए कहा कि यह यातायात के नियमों का उल्लंघन है। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम की धारा 19 व केंद्रीय मोटर नियमावली 1989 नियम 21 के तहत न केवल निश्चित अवधि के लिए चालक का लाइसेंस जब्त किया जाए, बल्कि उन्हें जेल भेजे जाने का भी प्राविधान है और वाहन दुर्घटना होने पर 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति की मृत्यु पर नये अधिनियम में तीन साल कैद व 3 लाख रूपये जुर्माना तथा 18 वर्ष से अधिक की मृत्यु पर 3 साल की कैद व एक लाख जुर्माने का प्राविधान किया गया है, जो पूर्णत: चालकों के खिलाफ कानून है। इस काले कानून का पुरजोर विरोध किया जायेगा। उन्होंने बताया कि यह कानून एक सितम्बर 2०15 से लागू होने जा रहा है और हर तीन महीने में अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का कहा गया है। इसके विरोध में दो सितम्बर को हड़ताल की जायेगी और बसों का चक्का जाम रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि विभिनन मार्गो पर चलने वाली लगभग 4००बसे पूर्णतया बंद रहेंगी और छोटे ऑटो, टैम्पू रिक्शा वाहन को भी बंद रखने का प्रयास किया जायेगा। इस दौरान मौ.राशिद ने भी अपने समर्थन की घोषणा की। इस अवसर पर मंसूर खान, मौ.फारूख, गयूर हसन, सुशील, बबली पंडित, ताहिर हसन, मोनू, अब्दुल मालिक, महक सिंह, साईन, मौ.आबिद, सलीम आदि मौजूद रहे। इस दौरान जनपद बस ऑपरेटर्स संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष मुकेश त्यागी ने भी समिति की ओर से सहयोग का आश्वासन दिया।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3