परमात्मा की अनुपम कृति है मनुष्य

अ.हि.ब्यूरो सम्भल। सम्पूर्ण सृष्टि में मानव योनि का महत्व अनुपम है। फिर भी मनुष्य स्वयं को भूलकर इधर उधर भटकता रहता है। शिव गोरख मंदिर समिति द्वारा आयोजित यज्ञ के पश्चात चली चर्चा में राधेश्याम श्रीमाली ने कहा कि परमात्मा ने मानव को अपने समान शक्तिशाली, सार्म्थवान बनाया है। इस अवसर पर दिव्या शर्मा, विपिन, राधिका आदि रहे।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3