अमेठी में ही लगेगा मेगा फूड पार्क, यूपी व मोदी सरकार फेल : राहुल गांधी

राहुल गांधी के अमेठी पहुंचने से पहले पुलिस ने जलाए उन्हें लापता बताने वाले पोस्टर, रायबरेली । कांग्रेस अध्यक्ष के पद पर आसीन होने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी जा रहे राहुल गांधी ने आज रायबरेली में भाजपा की उत्तर प्रदेश तथा केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। वह अपनी मां सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली के सलोन में नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। रायबरेली के सलोन में नुक्कड़ सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र तथा प्रदेश की भाजपा सरकार पर अपना निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दोनों जगह पर बड़ी-बड़ी बातें करने वाले लोग हैं। यह गरीब, किसान तथा मजदूरों पर जरा भी ध्यान नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह गरीबों की नहीं सुनते हैं। बड़े-बड़े घरानों के सारे काम हो रहे हैं। राहुल गांधी ने देश तथा प्रदेश की विकास योजनाए पूरी न होने के लिए प्रधानमंत्रर नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार माना। राहुल गांधी ने कहा कि योगी व मोदी लोगों को धर्म व जाति के नाम पर लड़ा रहे हैं। उन्होंने मोदी मॉडल पर भी सवाल उठाए। उन्होंने भाजपा के झूठ को जनता के बीच बताने का आह्वान किया। इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि हम तो फूड पार्क अमेठी में ही लगाएंगे। यह हमारा संकल्प है और हम इसको दोहरा भी रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आने के बाद देश तथा प्रदेश का गरीब व किसान एक बार फिर अपने विकास के बारे में सोच सकेगा। सलोन में कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह और एएसपी शशि शेखर के बीच झड़प। इसके बाद पुलिस के सामने राहुल गांधी का विरोध कर रहे भाजपाइयों को कांग्रेसियो ने लाठियों से पीटा। इसके बाद वहां जमकर हंगामा भी हो गया। सलोन से भाजपा विधायक दल बहादुर कोरी कस्बे में भाजपाइयों से मारपीट पर भड़के। पुलिस की शह पर कांग्रेसियो ने भांजी लाठी, विधायक का आरोप।इसके बाद राहुल गांधी सलोन से अमेठी के लिए निकले। राहुल गांधी अठेहा होते हुए ककवा मार्ग से अमेठी पहुंचेंगे। यहां राहुल गांधी के भव्य स्वागत की तैयारियां हैं। कांग्रेसी घरों की छतों से राहुल पर फूलवर्षा कराने की भी योजना बनाए हैं। राहुल गांधी के जाने के बाद भाजपा विधायक ने समर्थकों के साथ बाजार में जुलूस निकाला। इन लोगों ने राहुल गांधी जवाब दो, गुंडागर्दी नही चलेगी जैसे नारे लगाये।

यूपी पुलिस ने घायलों को नहीं पहुंचाया अस्पताल, कहा- गाड़ी गंदी हो जाएगी

सहारनपुर: जिले के नगर कोतवाली इलाके से एक ऐसा वाकया सामने आया है जिसने यूपी पुलिस के ''मित्र पुलिस'' होने के दावों पर सवालिया निशान लगा दिया है. दो नाबालिगों की जान पुलिस के इस अमानवीय चेहरे के कारण चली गई. अब पुलिस की बेरहमी का वीडियो वायरल हो रहा है. दो नाबालिग युवक रात के वक्त बाइक से जा रहे थे कि अचानक नाले में जा गिरे. घटना में उन्हें बहुत अधिक चोटें आईं. इस एक्सीडेंट की आवाज इतनी तेज थी कि आस पास के लोग घरों से निकल आए और दौड़ कर मौके पर पहुंचे. पहले तो पुलिसवालों ने घायलों को नाले से बाहर नहीं निकाला. नागरिकों ने जब घायलों को बाहर निकाला तो पुलिस ने उन्हें अपनी गाड़ी से अस्पताल ले जाने से इंकार कर दिया. मौके पर मौजूद पुलिसवालों ने कहा कि उनकी गाड़ी गंदी हो जाएगी. लोग पुलिसवालों के सामने गिड़गिड़ाते रहे और कुछ लोग वीडियो भी बनाते रहे. पुलिसवाले तैयार नहीं हुए तो लोग घायलों को लेकर टेंपो से अस्पताल पहुंचे लेकिन इलाज में देरी ने घायलों की जान ले ली. इस पूरी घटना का वीडियो अब वायरल हो रहा है. एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने कहा कि यह घटना गंभीर है. वह वीडियो को देख रहे हैं और जिम्मेदार पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. पुलिस और हर आम आदमी का पहला कर्तव्य है कि वह घायलों को अस्पताल पहुंचाए. सहारनपुर: जिले के नगर कोतवाली इलाके से एक ऐसा वाकया सामने आया है जिसने यूपी पुलिस के ''मित्र पुलिस'' होने के दावों पर सवालिया निशान लगा दिया है. दो नाबालिगों की जान पुलिस के इस अमानवीय चेहरे के कारण चली गई. अब पुलिस की बेरहमी का वीडियो वायरल हो रहा है.आसपास के लोगों ने तुरन्त ही इन दोनों किशोरों को नाले से बाहर निकाला तो वे खून से लथपथ थे. लोगों ने डायल 100 को सूचित किया. लोगों ने बताया कि डायल 100 पर तैनात पुलिसकर्मियो ने घायल किशोरों को अपनी गाडी मे बैठाकर अस्पताल ले जाने से मना कर दिया. बाद में दोनों घायलों को टैम्पो के माध्यम से अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया.

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3