लोकसभा में स्पीकर पर कागज उछालने वाले 6 सांसद 5 दिनो के लिए सस्पेंड

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र के दौरान सोमवार को लोकसभा में मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर लोकसभा स्पीकर पर कागज उछालने वाले 5 सांसदों को स्पीकर ने 5 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया है। जिन्हें संस्पेंड किया गया है उनमें जी गोगोई, के सुरेश, अधिरंजन चौधरी, रणजीत रंजन, सुष्मिता देव और एमके राघवन शामिल हैं। लोकसभा में विपक्ष ने गोरक्षा के नाम पर मॉब लिंचिंग पर हंगामा वहीं श्रीअकाली दल के सांसद चंदू मांजरा ने इराक में लापता हुए 39 भारतीयों को लेकर मांग की कि पूरे मामले में सच सामने लाया जाए। इसके बाद स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इस मुद्दे पर शाम 5 बजे अपना बयान देंगी। इससे पहले विपक्षी दलों ने गोरक्षा के नाम पर हो रहीं हिंसा का मुद्दा उठाते हुए हंगामा किया। इस दौरान कई सांसदों ने स्पीकर की तरफ कागज भी उछाले जिसे देखकर स्पीकर ने कहा कि अपका बर्ताव देश देख रहा है। विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि भीड़ द्वारा हत्या के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, पीएम मोदी तीन बार इस मुद्दे पर बोल चुके हैं लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। जब तक कोई एक्शन नहीं लिया जाएगा, इस तरह की घटनाएं नहीं रूकेंगी। सदन में भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने बोफोर्स तोप का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि भले ही कांग्रेस कहे की गढ़े मुर्दे नहीं उखाड़ना चाहिए लेकिन जब तक यह मुर्दे अच्छी तरफ दफन नहीं हो जाते, वो भूत बनकर घूमते रहते हैं।

राहुल नीतीश की मुलाकात के बाद भी तेजस्वी मुद्दे का समाधान नहीं

नई दिल्लीः जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बीच मुलाकात में बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी का मुद्दा छाया तो रहा लेकिन कोई समाधान निकल नहीं पाया. 30 मिनट तक राहुल गांधी और नीतीश कुमार के बीच अकेले में बातचीत हुई लेकिन तमाम बातें सुनने के बाद भी राहुल गांधी ने फिलहाल कुछ नहीं कहा. मुलाकात के शुरुआती 10 मिनट में बिहार कांग्रेस के प्रभारी सीपी जोशी भी साथ थे लेकिन सीपी जोशी के जाने के बाद करीब आधे घंटे तक राहुल और नीतीश की मुलाकात जारी रही. बिहार में महागठबंधन में जारी खींचतान के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वैसे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आमंत्रण पर दिल्ली पहुंचे थे लेकिन राहुल गांधी से भी उनकी मुलाकात हुई. सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी के साथ मुलाकात में उन्होंने सामाजिक राजनीतिक जीवन में शुचिता और ईमानदारी बरकरार रखने का हवाला तो दिया लेकिन राहुल गांधी ने तमाम बातों को सुनने के बाद भी कोई टिप्पणी नहीं की. कहा जा रहा है कि तेजस्वी यादव के इस्तीफे का चैप्टर अभी क्लोज नहीं हुआ है और नीतीश अभी भी हर हाल में इस्तीफा चाहते हैं. सूत्रों की माने तो राहुल गांधी और नीतीश कुमार की मुलाकात में महागठबंधन को हर हाल में जारी रखने पर सहमति बनी. राष्ट्रीय स्तर पर भी गठबंधन को बढ़ाने पर चर्चा हुई. नीतीश कुमार वैसे भी नैरेटिव विकल्प अपनाने की सलाह कांग्रेस को दे चुके हैं. माना जा रहा है राष्ट्रीय स्तर पर सभी दलों को साथ लेकर देशव्यापी गठबंधन बनाने पर भी दोनों नेताओं के बीच बातचीत हुई. नीतीश कुमार ने कुछ दिनों पहले कहा भी था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यदि चुनौती देना है तो वैकल्पिक एजेंडा और कार्यक्रम लेकर जनता के बीच जाना होगा. जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी की माने तो तेजस्वी यादव के मुद्दे पर किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता है. केसी त्यागी ने यूपीए टू कार्यकाल का हवाला देकर भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों की ओर इशारा किया. उन्होंने कहा कि तेजस्वी के मामले पर जद यू कभी पीछे नहीं हटेगा. राष्ट्रीय महासचिव के अनुसार तेजस्वी के मुद्दे पर नीतीश यदि गरम नहीं है तो वे नरम भी नहीं हैं.

More Articles...

  1. भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने नरेश अग्रवाल की नेमप्लेट पर पोती कालिख
  2. भारत अपनी सीमाओं की रक्षा करने में सक्षम, पहले चीन हटाए डोकलाम से अपनी सेना
  3. राष्ट्रपति चुनाव के लिए जारी है मतगणना, 60,683 वोटों के साथ कोविंद आगे
  4. मायावती का इस्तीफा बढ़ा सकता है बसपा की सीटें, हिला सकता है भाजपा की कुर्सी
  5. मानसून सत्र से पहले पीएम मोदी ने कहा- GST मतलब 'ग्रोइंग स्ट्रांगर टुगेदर'
  6. कल होगा राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए मतदान, जानें क्‍या है पूरी प्रकिया
  7. चिदंबरम बोले- कश्मीर पर मोदी सरकार ने आतंकियों जैसा अतिवादी रवैया अपनाया
  8. सर्वदलीय बैठक में बोले पीएम मोदी- गौरक्षा के नाम पर हुई हिंसा तो होगी कड़ी कार्रवाई
  9. 82 वर्षीय रिटायर्ड इंजीनियर को पांच साल की जेल,पढ़िए पूरा मामला
  10. माेदी कमजोर पीएम, ट्रंप से नहीं की एच 1-बी वीजा पर बात: राहुल

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3