विटोरी ने क्रिकेट को अलविदा कहा

ऑकलैंड न्यू जीलैंड के लिए सबसे ज्यादा वनडे खेल चुके अनुभवी स्पिनर डेनियल विटोरी ने मंगलवार को 50 ओवरों के फॉर्मेट को अलविदा कहने के साथ ही 18 साल के सुनहरे करियर के बाद क्रिकेट से पूरी तरह से विदा ले ली। विश्व कप में फाइनल तक पहुंचे न्यू जीलैंड के शानदार प्रदर्शन के बाद 36 वर्षीय विटोरी के वनडे कैरियर को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी। वह टेस्ट और टी20 क्रिकेट से पहले ही विदा ले चुके हैं। उन्होंने विश्व कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से सात विकेट से हारने के बाद स्वदेश पहुंचने के बाद वनडे क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया। विटोरी ने पत्रकारों से कहा, 'यह न्यू जीलैंड के लिए मेरा आखिरी मैच था। जीतते तो और अच्छा लगता लेकिन मुझे सभी खिलाड़ियों पर गर्व है। हमने पिछले छह हफ्ते बेहतरीन क्रिकेट खेला।' विटोरी ने कहा, 'फाइनल में पहुंचना ही गर्व की बात थी। मैं ब्रेंडन (मैकुलम) और माइक (हेसन) से मिले सहयोग के लिए उनका शुक्रगुजार हूं। इतनी चोटों से जूझकर वापसी करते हुए वहां तक पहुंचना, मैं कभी नहीं भूल सकूंगा।'18 बरस की उम्र में 1997 में वनडे क्रिकेट में पदार्पण करने के बाद से विटोरी ने 295 मैचों में 31.71 की औसत से 305 विकेट लिए। वह पांच विश्व कप के 32 मैचों में 36 विकेट ले चुके हैं। टेस्ट क्रिकेट में 113 मैच खेलकर उन्होंने 362 विकेट लिए। वह 300 विकेट लेने और 4000 रन बनाने वाले कपिल देव और इयान बाथम के बाद तीसरे क्रिकेटर हैं। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 4531 रन बनाए हैं। उन्होंने 2011 तक 32 टेस्ट और 82 वनडे में न्यू जीलैंड की कप्तानी की। उन्होंने 34 टी20 मैच खेलकर 38 विकेट लिए।

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3