नॉर्थ कोरिया की धमकियों पर जापान गंभीर, 73 साल बाद की मिलिट्री ड्रील

नॉर्थ कोरिया की ओर दी जा रही धमकियों ने दुनिया भर में तहलका मचाया हुआ है और इसी के खिलाफ तैयारियां करने के लिए जापान में मिलिट्री डील की गई। जापान में दूसरे विश्व युद्ध के बाद पहली बार मिलिट्री ड्रील हुई, जिसका आयोजन राजधानी टोक्यो में किया गया। इस ड्रील में करीब 250 नागरिकों ने हिस्सा लिया। खबर के मुताबिक 250 स्थानीय निवासियों को लाउडस्पीकर की मदद से निर्देश दिए गए। लाउडस्पीकर में कहा गया, 'हमें जानकारी मिली है कि मिसाइल लॉन्च किया गया है। कृपया शांतिपूर्वक बाहर निकल जाएं या अंडरग्राउंड हो जाएं।' इसके थोड़ी देर बार लाउडस्पीकर से दूसरा संदेश जारी किया गया, 'मिसाइल गुजर गई। मिसाइल कांतो क्षेत्र से होकर प्रशांत सागर की ओर चली गई।' टोक्यो के लोगों को कहना है कि ड्रील के लिए इससे बेहतर आईडिया दूसरा नहीं हो सकता, लेकिन प्रार्थना है, ऐसे हालात कभी सामने न आए। बता दें कि पिछले साल नॉर्थ कोरिया की ओर तीन मिसाइल छोडी गई थीं और इसी वजह से ऐसे हालात बने रहते हैं कि देश पर कभी भी परमाणु हमला हो सकता है। ऐसा हर बार होता है, जब जापानी नागरिकों को इमरजेंसी के मैसेज भेजे जाते रहे हैं।

26/11 की तरह ही काबुल होटल बना निशाना, 5 की मौत, तीन हमलावर ढेर

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के इंटरकांटिनेंटल होटल में शनिवार रात चार आतंकी घुस गए और मेहमानों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। हमलावरों ने होटल के किचन और चौथी मंजिल को आग लगा दी। कुछ लोगों को बंधक बनाए जाने की भी आशंका है। खुफिया एजेंसी नेशनल डायरेक्टरेट ऑफ सिक्योरिटी (एनडीएस) के एक अधिकारी के मुताबिक, हमलावरों के पास छोटे हथियार और ग्रेनेड लॉन्चर हैं। उन्होंने आत्मघाती बेल्ट भी पहनी हुई थी। इस होटल में आमतौर पर बड़े सम्मेलन होते हैं। यहां राजनीतिक शख्सियतों का भी जमावड़ा लगा रहता है। हमला स्थानीय समयानुसार रात नौ बजे हुआ था। अफगानिस्तान के गृहमंत्रालय के एक प्रवक्ता नसरत रहमानी के मुताबिक, होटल की तीसरी और चौथी मंजिल पर सुरक्षा बलों की हमलावरों से मुठभेड़ चल रही है। हालिया मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तीन आतंकियों सहित 5 नागरिकों की मौत होने और 6 नागरिकों के घायल होने की खबर सामने आई है। पिछले 12 घंटे से हमलावर और सुरक्षाकर्मियों के बीच मुठभेड़ चल रही थी। इस हमले को मुंबई के ताज होटल में हुए 26/11 जैसा बताया जा रहा है। इस बीच, होटल के एक कमरे में छिपे मेहमान ने फोन पर बताया कि अंदर गोलीबारी जारी है। मेहमान ने अपना नाम न बताते हुए कहा कि मुझे नहीं पता कि हमलावर होटल में कहां हैं लेकिन मैं पहले तल पर गोलियों की आवाज सुन रहा हूं। हम कमरे में छिपे हुए हैं। मैं सुरक्षा बलों से प्रार्थना करता हूं कि हमें जल्द से जल्द बचा लें, नहीं तो हमलावर हमें मार देंगे। इस बीच, आतंकवाद रोधी दस्ते के एक अधिकारी ने कहा कि होटल की छत पर धमाके के बाद बिजली काट दी गई है। इस होटल पर 2011 में भी आतंकी हमला हुआ था, तब यहां 21 लोगों की जान चली गई थी।

More Articles...

  1. यूएन में भारत के निशाने पर पाक, कहा- सीमा पार सुरक्षित आतंकी ठिकानों का खात्‍मा जरूरी
  2. दिवालिया' होने के कगार पर अमेरिका, 'शटडाउन' पर ट्रंप की कोशिश फेल; सीनेट में बिल नहीं हुआ पास
  3. रनवे से उतरकर समुद्र के पास गिरा 162 यात्रियों से भरा प्लेन, वीडियो हुआ वायरल
  4. पुर्तगाल: हीटर विस्फोट की आग में बुझ गईं आठ जिंदगियां, दर्जनों की हालत गंभीर
  5. ट्रंप के वकील ने 2016 चुनाव से पहले पॉर्न स्टार को दिए 1 लाख 30 हजार डॉलर!
  6. अगस्ता वेस्टलैंड केस में इटली कोर्ट का फैसला, दो आरोपी बरी
  7. ट्रंप की सख्ती के बाद पाक की नई चाल, चाबहार में चीन को नौसेना बेस पर दे रहा समर्थन: रिपोर्ट
  8. अफगानिस्तान: काबुल में आत्मघाती हमला, 11 लोगों की मौत, 25 घायल
  9. पाकिस्तान में शादी से पहले बातचीत करने पर लड़की, मंगेतर को गोली मारी
  10. अरुणाचल में भारतीय सेना ने चीनी दल को खदेड़ा, सामान छोड़कर पड़ा भागना

София plus.google.com/102831918332158008841 EMSIEN-3